किंग सलमान का पिघला दिल, अब सऊदी हुकूमत कैदियों को करा रही है…

सऊदी हुकूमत दे रही है वहाँ के कैदियों को अपनी नई जिंदगी दोवारा शुरू करने का मौका, सऊदी हुकूमत का कहना है की हर इंसान को सुधरने का एक मौका दिया जाना चाहिए जिससे वह अपनी ज़िन्दगी दुबारा शुरू कर सके और सही राह पर चल सके। वहाँ की हुकूमत वहाँ के कैदियों की मदद करना चाहती है उनके पुनर्वास के लिए जिसके चलते सऊदी हुकूमत ने एक सुधार अभियान शुरू किया है जिसमे वहाँ के कैदियों को हज करा कर सुधरने का एक मौका दिया।

आपको बता दें सऊदी हुकूमत ने जेल में बंद कैदियों के हित में एक बड़ा फैसला लेते हुए वहाँ के 50 कैदियों को उनके परिवार के साथ हज करने की अनुमति दे दी है जिसके चलते वहाँ के कैदी भी अब अपने परिवार से मिलकर अपने बीवी बच्चों अपने माँ बाप के साथ मिलकर हज कर रहे हैं।

Image Source: Google

सऊदी हुकूमत ने बताया है की यह कदम वहाँ के कैदियों के पुनर्वास में मदद के लिए उठाया गया है जिससे वह कैदी भी अपने आने वाले भविष्या के बारे में सोच सके और अपने आपको सुधार सकें हज करने के दौरान उन कैदियों को और हाजियों से अलग नहीं किया गया था और ना ही उनके साथ कुछ ऐसा बेवहार किया गया जिससे वह बाकी हाजिओं से अलग दिखाई दें हज के दौरान ऐसा कोई भी बेवहार नहीं किया जिससे दुसरे हाजी उनको पहचाने या उनको अपने आप पर शर्म महसूस हो।

वहाँ की पुलिस व हुकूमत द्वारा उन पर कोई प्रतिबन्ध नहीं लगाया गया जिससे उन्हें पहचाना जा सके। हज के दौरान वहाँ के पुलिस अधिकारी व गार्ड उन लोगों के साथ थे जेल के सामान्य निर्देशालय में संबंधों और सूचना के निदेशक बन्दर बिन अली अल खर्मी ने कहा कि कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य कैदियों का पुनर्वास पुन र्निमाण और उन्हें प्रेरित करना है। उन्होंने कहा हमने पाया कि इष्टतम कार्यक्रम उनके प्रियजनों के साथ हज कराने का है।

जेल के निदेशालय में आने वाले हज के दौरान कैदियों की संख्या को विस्तार पूर्वक बताना एवं उसे बढ़ाना चाहता है। हज कैदियों का यह अभियान उनकी रिहाई से पहले कैदी के पुनर्वास के लिए थिका कार्यक्रम का हिस्सा है इसमें उनकी रिहाई पर कैदियों के लिए रोजगार या उपयुक्त प्रशिक्षण कार्यक्रम खोजने के प्रयास शामिल हैं।

सऊदी हुकूमत ने बताया की यह अभियान वहा के लोगों एवं कैदियों दोनों के लिए सुधरने और सही राह पे चलने की सोच को जगायेगा जिसकी वजह से वहा पर सुख शांति का माहौल पैदा होगा।