VIDEO: लब पे आती है दुआ बनके प्रार्थना को लेकर सस्पेंड हुए प्रिंसिपल की हुई बहाली, कोर्ट ने कहा सिर्फ मुसलमान…….. इसलिए अब

पिछले दिनों उत्तरप्रदेश के एक सरकारी स्कूल से छात्रों द्वारा प्रार्थना में लैब पर आती है दुआ बनके तमन्ना मेरी प्रार्थना को लेकर काफी बवाल सामने आया था जिसको लेकर विश्व हिन्दू परिषद् ने स्कूल के प्रधान अध्यापक पर याचिका दायर कर दी थी जिसके बाद वहाँ के प्रधानाध्यापक को सस्पैंड कर दिया गया था| साथ ही प्रार्थना को लेकर उनके ऊपर जांच भी गठित की गयी थी| इन सब के चलते अभी हाल ही खबर मिली है कि पीलीभीत में सरकारी प्राइमरी स्कूल के प्रधानाध्यापक फुरकान अली को चेताव’नी देकर बहाल कर दिया गया है|

जानकारी के मुताबिक़ अब उनका स्थानांतरण कर दूसरे स्कूल में भेज दिया गया है| इसके चलते जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी देवेंद्र स्वरूप ने कहा कि फुरकान हालांकि एक शिक्षक के रूप में काम करेंगे ना कि प्रधानाध्यापक के रूप में|

बता दें कि फुरकान अली के दिव्यांग होने की जानकारी मिलने के बाद मानवता के आधार पर उन्हें उसी क्षेत्र के दूसरे स्कूल में तैनात कर दिया गया है| बेसिक शिक्षा विभाग के अधिकारी ने बताया कि फुरकाल अली को अंतिम और सख्त चेतावनी देकर छोड़ दिया गया है|

साथ ही अधिकारी ने बताया कि फुरकाल अली से कहा गया है कि वह विभागीय कानूनों का पालन करें और वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशन में अपनी ड्यूटी करें| वहीँ उन्होंने बताया कि अमरिया के खंड शिक्षा अधिकारी उपेन्द्र कुमार मामले की विस्तृत जांच कर रहे हैं|

जानकारी के लिए बता दें कि फुरकान अली को विश्व हिंदू परिषद (V.H.P) की शिकायत पर निलंबित किया गया था जिसमें कहा गया था कि प्रधानाध्यापक छात्रों को, जिनमें अधिकतर बहुसंख्यक समुदाय के बच्चे हैं, जबरन प्रार्थना ‘लब पे आती है दुआ’ गवाते हैं| विश्व हिंदू परिषद (V.H.P) के मुताबिक़, यह प्रार्थना आम तौर पर मदरसों में गाई जाती है सरकारी स्कूलों में|

साभार: #NDTVIndia