इस्लामिक देशों के संगठन ने कश्मीर को लेकर किया बड़ा फैसला, भारत से कहा...

इस्लामिक देशों के संगठन ने कश्मीर को लेकर किया बड़ा फैसला, भारत से कहा…

भारत सरकार द्वारा जम्मू कश्मीर के विशेष राज्य का दर्जा खत्म करने के बाद से दुनिया भर के देशों से आये दिन बयान आते रहते हैं| मुस्लि’म ही नहीं पूरी दुनिया के हर ध’र्म के देश इस मुद्दे को लेकर अपनी राये व्यक्त कर रहे हैं| साथ ही भारत में भी सरकार द्वारा जम्मू कश्मीर के विशेष राज्य का दर्जा खत्म करने के बाद से घा’टी में क’र्फ्यू लगा हुआ है, वहाँ के बेक़सूर लोगों को बं’दी बना कर कैद किया हुआ है| लगभग 40 50 से ज्यादा हो गए वहाँ लोग अपने ही घरों में कैद हैं, जिसके चलते अब इस मुद्दे पर पूरी दुनिया मे चर्चा चल रही हैं।

आपको बता दें कि संयुक्त राष्ट्र में ये मुद्दा जमकर चल रहा है और अब इस्लामि’क देशों के संगठन ने भी बुधवार को भारत से जम्मू एवं कश्मीर का विशेष दर्जा खत्म करने के निर्णय को वापस लेने और वहां ओआईसी तथा संयुक्त राष्ट्र जैसी अंतर्राष्ट्रीय संस्थाओं के प्रवेश करने को मंजूरी देने के लिए कहा है जिससे वहां संगठित और व्यवस्थित मानवाधिकार उल्लंघनों की रिपोर्ट्स की स्वतंत्र जांच हो सके।

जानकारी के लिए आपको बता दें कि ओआईसी में 57 देश शामिल हैं। ओआईसी द्वारा यह बयान न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र महासभा के 74वें सत्र से इतर कश्मीर पर ओआईसी कॉन्टैक्स ग्रुप के विदेश मंत्रियों की बैठक के बाद जारी किया गया है।

इसी के चलते पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने बैठक में पाकिस्तान की अगुआई की और ओआईसी सदस्यों को भारत द्वारा पांच अगस्त को जम्मू एवं कश्मीर का विशेष दर्जा खत्म करने के बाद कश्मीर की स्थिति के बारे में बताया। विस्तृत चर्चा के बाद ओआईसी कॉन्टै’क्ट ग्रुप ने कश्मीर में मानवाधिकार की गंभीर स्थिति पर चिं’ता व्यक्त करते हुए सर्वसम्मति से संकल्प लिया।

एक्सप्रेस ट्रिब्यून की रिपोर्ट के मुताबिक़, ओआईसी ने कश्मीर को अंतर्राष्ट्रीय विवादित स्थान बताया है और भारत से कश्मीर पर अपने अवै’ध निर्णय को तत्का’ल हटा’ने तथा संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के संक’ल्प के अनुसार अंतिम निर्णय होने तक कोई बदलाव नहीं करने का आश्वास’न करने को कहा है।

इसी के साथ ही पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने महासभा में कश्मीर मुद्दा उठाने के लिए मंगलवार को तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तईप एर्दोगन का धन्यवाद किया है|

साभारः #BBCNews

Leave a comment