पहलू खान मामले में आए अदालत के फैसले पर भड़के ओवैसी, कहा- अरे क्या बताएंगे उनके परिवारवालों को…

नई दिल्ली: गोतस्क’री के मामले में मॉब लिंचिं’ग के शिकार हुए पहलू खान का मामला 2 साल बाद फिर से सुर्खियों में है. पहलू खान की मॉब लिंचिं’ग अप्रैल 2017 में हुई थी ये मामला तुरंत राजनीतिक गलियारों में चर्चे की वजह बन गया था. सांसद और एआईएमआईएम चीफ असद्दुदीन आवैसी ने मृत’क पहलू खान के खिलाफ चार्जशीट दायर किए जाने पर कड़ी प्रतिक्रिया जताई है और कहा है कि सत्ता में आने पर कांग्रेस भी बीजेपी जैसी ही हो जाती है, राजस्थान के मुसलमा’नों को ये बात समझ लेनी चाहिए।

हिंस’क भी’ड़ द्वारा पी’ट-पी’टकर मा’र दिए गए पहलू खान मामले में करीब दो साल बाद अलवर सत्र न्यायालय ने बुधवार को सभी छह आरोपियों को बरी कर दिया. इस मामले में एआईएमआईएम के अध्यक्ष असादुद्दीन ओवैसी की कड़ी प्रतिक्रिया सामने आई है। ओवैसी ने ट्वीटर पर लिखा अधिकांश लिंचिं’गों में आरोपी खुश थे जबकि वे एक इंसान की जिंदगी को लूट रहे थे. ऐसे लोग इन भयान’क कृ’त्यों के जरिए प्रसिद्ध होना चाहते थे।

owaisi
Image Source: Google

लेकिन क्या अब हम यह मान सकते हैं कि किसी ने पहलू खान को नहीं मारा? यह घटिया अभियोजन उनके परिवार को क्या बताएगा? गौ रक्षकों की एक भी’ड़ द्वारा पहलू खान को पी’ट-पी’टकर मा’र दिए जाने के करीब दो साल बाद अलवर सत्र न्यायालय ने सभी छह आरोपियों को बरी कर दिया. अदालत ने इन्हें संदेह का लाभ देते हुए बरी कर दिया. अलवर के अतिरिक्त जिला व सत्र न्यायाधीश नंबर 1 डॉ. सरिता स्वामी की अदालत में फैसला सुनाया गया।

आपको बता दें मामले की सुनवाई 7 अगस्त को समाप्त हुई थी इसमें 9 लोगों को आरोपी बनाया गया था, जिसमें तीन नाबालि’ग भी शामिल हैं जो पहले से जमानत पर बहार है. पीड़ित के परिवार ने 44 गवाह प्रस्तुत किए पहलू खान के वकील कासिम खान ने कहा कि मामले की ठीक तरह से जांच नहीं की गई और पुलिस ने राजनीतिक दबाव के चलते आरोप पत्र पेश किया।

बता दें 55 वर्षीय पहलू खान हरियाणा के नूह के रहने वाले थे. एक पिकअप वैन से राजस्थान से हरियाणा मवेशी ले जाने के दौरान भी’ड़ ने गौ तस्क’री के संदेह में पिटा’ई की जिससे उनकी सरकारी अस्पताल में 3 अप्रैल 2017 को मौ’त हो गई. इस घट’ना को कैमरे में रिकॉर्ड किया गया था. इसमें दिखाई दे रहा है कि पहलू खान को आक्रामक भी’ड़ पी’ट रही है।

लेकिन अदालत वीडियो साक्ष्य से स्पष्ट रूप से संतु’ष्ट नहीं थी साल 2017 में राजस्थान पुलिस ने पहलू खान द्वारा मौ’त से पहले बयान में बताए गए छह लोगों को क्ली’न चिट दे दी बाकी के तीन आरोपी नाबालि’ग है और उन पर किशोर न्यायालय में मुकदमा चलाया जा रहा है।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *