VIDEO: एक बार फिर सामने आई इजराइल की दरिंद’गी, येरुशलम में तोड़े फिलीस्तीनियों के घर

येरुशलम: इजराइल और फिलीस्तीनियों के तनाव एक बार फिर बढ़ता नजर आए रहा है। सैंकड़ों नौजवान फिलीस्तीनियों की गिरफ्तारी के बाद अब इजराइली सेना ने उनके घरों को तोडना शुरू कर दिया है। इजरायल ने सोमवार की सुबह यरुशलम के दक्षिण में फिलिस्तीनी घरों को अवैध बताते हुए उन्‍हें तोडना शुरू कर दिया। वही इजराइल के इस कदम से एकबार फिर अंतरराष्‍ट्रीय स्‍तर पर चिंता की लकीरें खिंच गई हैं। इजरायली पुलिस और सेना ने सुर बहेर इलाके में बड़ी बड़ी चार इमारतों को सील कर दिया। इसके बाद कई इमारतो पर बुलडोजर चला दिया।

आपको बता दें इजराइल के सुर बहर इलाके में दर्जनों पुलिसकर्मी और सेना की टुकड़ियों ने इस कार्रवाई को अंजाम दिया। रिपोर्ट के मुताबिक इजराइल सुरक्षा बैरियर के पास चार बिल्डिंगों को अपने कब्जे में ले लिया गया। जबकि दर्जनों इमारतों को धीरे-धीरे तोड़ना शुरू कर दिया। इस दौरान वहां के बेसहारा लोग रोते बिलखते मदद की गुहार लगाते रहे।

Image Source: Google

स्थानिये मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक इस कार्रवाई के दौरान सुर बहर इलाके में पत्रकारों को दाखिल होने से रोका जा रहा था। जबकि कार्यकर्ताओं और निवासियों को वहां से जबरन खदेड़ा जा रहा था। जबकि इजराइल का कहना है कि यहू’दी और वेस्ट बैंक को अलग करने वाली सीमा के पास बने ये घर दीवार के बेहद नजदीक थे। इसलिए इन्हें तोड़ा जा रहा है।

Image Source: Google

गौरतलब है पिछले महीने ही इजरायल ने घोषणा की थी कि वह गाजा के मछुआरों को समुद्र में जाने की अनुमति नहीं देगा। वही फिलिस्तीन द्वारा लगातार की गई आ’ग की घटनाओं के बाद इजरायल ने अपनी समुद्री नाकाबंदी को कड़ा कर दिया है। इजरायल के रक्षा मंत्रालय के निकाय ने कहा कि गाजा पट्टी से इजराइल की ओर आ’ग लगाने वाले गुब्बारों की निरंतर लॉन्चिंग की वजह से इजरायल इस क्षेत्र का इस्तेमाल गाजा के लिए रोक रहा है।

वही फिलीस्तीनियों का आरोप है कि इजराइल सुरक्षा का झूठा हवाला देकर उन्हें उनके इलाके से निकालने की कोशिश कर रहा है। हाल ही में आई फिलिस्तीनी कैदियों के अध्ययन केंद्र PCHR की रिपोर्ट में बताया गया है कि इस साल की शुरुआत से इजराइल ने येरूशलम में भारी संख्या में फिलिस्तीनियों की गिरफ्तारी की हुई है। इस दौरान करीब 900 से अधिक फिलिस्तीनियों की गिरफ्तार किया है।