आजमगढ़: घायल CAA प्रदर्शनकारि महिलाओं ने प्रियंका से साझा किया दर्द कहा,- CAA विरोध के कारण बर’सी थीं…

लखनऊ: आजमगढ़ नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और (NRC) का विरोध करने के दौरान ख’दे’ड़ी गई मुस्लि’म महिलाओं से आज कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने पी’ड़ित महिलाओं से बातचीत कर उनके हाल चल के बारे में जानकारी ली। और कहा, आप सभी के साथ गलत हुआ है और हमें इस अन्याय के खिलाफ खड़ा होना होगा। यह सरकार पूरी तरह से गरीबों के खिलाफ है।

आपको बता दें कि आजमगढ़ के बिलरियागंज कस्बे में CAA और NRC के विरोध में बीते पांच फरवरी को महिलाओं ने दिल्ली के शाहीन बाग की तर्ज पर धरना शुरू कर दिया था। इस दौरान यूपी पुलिस ने धरना खत्म कराने के लिए महिलाओं को वहां से ख’दे’ड़ना चालू कर दिया।

इस दोरान नागरिकता कानून का विरोध कर रही हजारों महिलाओं पर पुलिस ने ला’ठीचा’र्ज किया आं’सू गै’स के गो’ले दा’गे और प’थराव किया जिसके कई वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुए थे। ला’ठीचा’र्ज में कई महिलाएं घायल हुई और पुलिस ने 19 लोगों को देश द्रो’ह समेत अन्य धा’राओं में गिरफ्तार कर जेल भी भेजा गया था।

आजमगढ़ पहुंची कांग्रेस महासचिव ने कहा, तमाम बच्चों को जेल में डाला गया और धा’राएं लगाई गई हैं। उनको छोड़ा नहीं जा रहा है इनके एक मौलाना साहब है, जिन्हें जेल में डाला गया, जबकि वो हमेशा अ’हिं’सा की बात करते हैं। यूपी पुलिस ने इनके साथ बहुत ना’इंसाफी की है।

वही प्रियंका ने कहा की मैंने महिलाओं के बारे में सुना। मैं बिजनौर, मुजफ्फरनगर, मेरठ, लखनऊ और वाराणसी गयी और उन जगहों पर गयी, जहां पुलिस और प्रशासन ने अ’त्याचार किया। मैं आजमगढ़ की रिपोर्ट लूंगी। मैं उन पुलिस वालों के नाम भेजूंगी, जिन्होंने अ’त्याचार किया है।

उन्होंने आगे कहा, केन्द्र और यूपी की सरकार जन विरोधी और गरीब विरोधी है और संविधान तोड़ने के लिए काम कर रही है। उन्होंने जनता को आगाह किया कि अगर आप और हमने मिलकर इसे नहीं बचाया तो संविधान टूट जाएगा।

बता दें लोगों को संबोधित करने से पहले प्रियंका उन प्रदर्शनकारियों के परिजनों से मिलीं, जो चार फरवरी को सीएए विरोधी प्रदर्शन में शामिल हुए थे। प्रियंका से मिलने वाली एक महिला ने कहा कि वह हमने परिवार के सदस्य की तरह मिलीं और हमसे पूछा कि चार फरवरी को दरअसल क्या हुआ था।

हमने उन्हें पूरी बात बतायी और यह भी बताया कि हम क्या चाहते हैं। हम चाहते हैं कि हमारे नेता ताहिर मदनी और जिनके खिलाफ झूठे मुकदमे लगाये गये, उन्हें रिहा किया जाए। प्रियंका गांधी ने कहा कि कांग्रेस यह मुद्दा लोकसभा और उत्तर प्रदेश विधानसभा में उठाएगी।

Leave a comment