VIDEO: अगर बाबा रामदेव टेलीविजन चैनल पर आकर अंडा खाएं तो बढ़ जाएगी इसकी डिमांड, उनके भक्त भी खाने लगेगे: राजिंदर सिंह बाजवा

अक्सर हम लोगो देखते आये है की कई लोग अंडे को शाकाहा’री मानते हैं तो कई लोग इसको मां’साहा’री लेकिन फिर भी कई लोग अंडे को शाकाहारी मानते हैं और उनमे से लगभग सभी इसको खा रहे हैं और जो नहीं खा रहे वो मां’साहा’री है या शाकाहा’री है इसको लेकर सवाल उठा रहे हैं| आज अगर देखा जाए तो अंडे को लेकर तमाम तरह के राय हैं और आये दिन कई लोगो के बयान आते रहते हैं| अंडे को लेकर हाल ही में एक और बड़ा बयान सामने आया है जिसके चलते नेता ने बाबा रामदेव पर तंज कस्ते हुए टिप्पणी की हैं|

आपको बता दें कि पंजाब के पशुपालन मंत्री तृप्त राजिंदर सिंह बाजवा ने इस अंतरराष्ट्रीय अंडा दिवस पर अपना बयान देते हुए कहा कि बाबा रामदेव अगर सार्वजनिक रूप से टेलीविजन चैनल पर अंडा खा लें तो उनके समर्थक भी उसको शाकाहा’री मानेंगे और उसको खाने लगेंगे लेकिन उनके इस बयान ने विवाद का रूप तब ले लिया जब उन्होंने कहा कि भारत में धर्म कई समस्याओं की वजह है।

इसी के चलते उन्होंने अपने बयान में आगे कहा कि देश में अंडे की सप्लाई सरप्लस है लेकिन इसके बावजूद मार्केटिंग की बहुत बड़ी समस्या है। योग गुरु बाबा रामदेव अंडे की खपत बढ़ाने में मदद कर सकते हैं, अगर वह टीवी पर अंडा खाते हुए दिख जाएं तो उनको मानने वाले भी अंडा खाने लगेंगे। इससे अंडे की सरप्लस समस्या का समाधान हो जाएगा।

वहीँ साथ में अपने बयान में पंजाब के पशुपालन मंत्री राजिंदर बाजवा ने शंकराचार्य और अन्य हिंदू धार्मिक नेताओं से अपील करते हुए कहा कि वे सभी नेता बताएं कि अंडा शा’काहा’री हैं या मां’साहा’री क्यूंकि वे जैसा कहेंगे लोग वैसा ही मानेंगे। इससे अंडे को लेकर काफी दिक्कतें दूर हो जाएंगी। उन्होंने आगे बताया कि बहुत से लोग हैं जो अंडा खाना चाहते हैं, लेकिन वह इसे मां’साहा’री समझ कर नहीं खा रहे हैं।

बता दें कि विश्व अंडा दिवस के अवसर पर अंडे को बढ़ावा देने के लिए पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ द्वारा एक विशेष कार्यक्रम आयोजित किया गया था जिसमे सभी ने अंडों पर अपने विचार प्रस्तुत किए, लेकिन जब पंजाब के पशुपालन मंत्री तृप्त राजिंदर सिंह बाजवा की बारी आयी तो उन्होंने यह विवादित बयान दे दिया और इस पर बखेड़ा खड़ा हो गया।

साभारः #Jansatta