Rashid Khan ने रचा इतिहास, तोड़ा 15 साल पुराना वर्ल्ड रिकॉर्ड

क्रिकेट की इस दुनिया में रोज़ नए नए युवा उभर कर आ रहे हैं| इसी के साथ क्रिकेट आज के दौर में लोगों के बीच सबसे पसंदीदा खेल भी बन गया है| क्रिकेट की इस दुनिया में आये एक नए युवा ने इतिहास बदल दिया है| हम बात कर रहे हैं अफगानिस्ता’न के स्पिनर राशिद खान कि जिन्होंने सबसे कम उम्र में टेस्ट मैच का कप्तान बन इतिहास बना दिया है| आपको बता दें कि स्पिनर राशिद खान ने गुरुवार को पहली बार टेस्ट मैच में अफगानिस्तान का नेतृत्व किया और खेल के सबसे लंबे प्रारूप में एक पक्ष का नेतृत्व करने वाले सबसे युवा क्रिकेटर बनने के लिए 15 साल पुराना रिकॉ’र्ड तोड़ दिया है।

राशिद खान ने बांग्लादेश के खिला’फ अफगानिस्तान के एक एक टेस्ट मैच के दौरान रिकॉ’र्ड तोड़ा है और इसी के साथ उन्होंने अब जिम्बाब्वे टेटेन्डा ताइबू का रिकॉर्ड भी तोड़ दिया है जो 2004 में बनाया गया था।

बता दें कि राशिद ने यह उपलब्धि 20 साल और 350 दिन की उम्र में हासिल की थी जबकि ताइबू ने इससे पहले 20 साल और 358 दिन की उम्र में रिकॉर्ड बना कर इतिहास रचा था| आपको बता दें कि अफगानिस्तान ने 2017 में टेस्ट का दर्जा हासिल कर लिया था लेकिन खेल के सबसे लंबे प्रारूप में उसे एक आदर्श शुरुआत नहीं मिली क्योंकि भारत ने उन्हें अपने पहले टेस्ट मैच में ही दो दिनों के अंदर हरा दिया था।

जानकारी के लिये बता दें कि अफगानिस्तान इस साल की शुरुआत में आयरलैं’ड को सात विकेट से मात देने में सफल रहा। अफगानिस्तान ने इस साल की शुरुआत में इंग्लैंड और वेल्स में टीम के निरा’शाजन’क विश्व कप अभियान के बाद खेल के सभी प्रारूपों के लिए राशिद को कप्तान बनाया था।

आपको बता दें कि राशिद ने 44वें वनडे में ही 100 विकेट पूरे कर लिए थे। उनसे पहले सबसे कम वनडे में 100 विकेट लेने का रिकॉर्ड ऑस्ट्रेलिया के मिशेल स्टॉर्क के नाम था। स्टॉर्क ने 52 मैच में अपने 100 विकेट पूरे कर लिए थे।

राशिद के नाम पर सबसे कम उम्र में अंतरराष्ट्रीय मैच में कप्तानी करने का रिकॉ’र्ड भी दर्ज है। उन्होंने 4 मार्च 2018 को स्कॉटलैंड के खिला’फ टी20 मैच में पहली बार कप्तानी की थी। तब उनकी उम्र 19 साल 165 दिन थी।

बता दें कि राशिद ने बांग्लादेश के खिलाफ टेस्ट में कप्तानी को लेकर कहा कि मैं काफी रोमांचित हूं यह नई भूमिका है मैं स’कारात्म’क रहकर खेल का पूरा मजा लेने की कोशिश करूंगा। खबर के मुताबिक़ आईसीसी क्रिकेट विश्व कप 2019 से पहले और बाद में अफगानिस्ता’न क्रिकेट टीम में काफी उतार चढ़ाव हुए हैं।

आपको बता दें कि अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने इस साल वर्ल्ड कप से पहले अप्रैल में रहमत शाह को राष्ट्रीय टेस्ट टीम की कमान सौंपी थी। हालांकि विश्व कप के बाद अब राशिद को कमान सौं’प दी गई है।

साभारः #Jansatta