PM मोदी के लिए एक और शर्म की बात, जवान के बाद रिटायर्ड जज लड़ेंगे मोदी के ख़िलाफ़ चुनाव

नई दिल्लीः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ वाराणसी से भले ही प्रमुख दलों ने अपने उम्मीदवार का ऐलान न किया हो, लेकिन बीएसएफ के बर्ख़ास्त जवान तेज बहादुर यादव ने बीते दिनों वाराणसी सीट से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ख़िलाफ़ लोकसभा चुनाव लड़ने का ऐलान करने के बाद अब एक रिटायर्ड जज उनके खिलाफ ताल ठोकने के लिए तैयार दिख रहे हैं।

IANS की एक खबर के मुताबिक, मद्रास और कलकत्ता हाई कोर्ट के रिटायर्ड जज सी. एस. कर्णन वाराणसी लोकसभा क्षेत्र से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ेंगे। कर्णन ने कहा है कि वह वाराणसी में अपने नामांकन के लिए काम कर रहे हैं। रिपोर्ट्स के मुताबिक, PM मोदी भी 26 अप्रैल को वाराणसी से अपना पर्चा दाखिल करेंगे।

इंडिया टीवी न्यूज़ डॉट कॉम के अनुसार 63 वर्षीय सेवानिवृत्त न्यायाधीश ने कहा, मैंने मोदी के खिलाफ वाराणसी निर्वाचन क्षेत्र में चुनाव लड़ने का फैसला किया है। अब मैं वाराणसी में अपना नामांकन दाखिल करने के लिए काम कर रहा हूं। वह पहले ही मध्य चेन्नई लोकसभा सीट के लिए अपना नामांकन दाखिल कर चुके हैं और वाराणसी उनका दूसरा निर्वाचन क्षेत्र होगा।

बता दें कर्णन अदालत की अवमानना के लिए दोषी पाए जाने वाले पहले आसीन न्यायाधीश थे। उन्हें जून 2017 में अपनी सेवानिवृत्ति के बाद 6 महीने की जेल की सजा काटनी पड़ी।

वहीं बात करे वाराणसी की तो अभी तक कांग्रेस या अन्य किसी भी पार्टी ने अपना प्रत्याशी घोषित नहीं किया है। हालांकि समय-समय पर नरेंद्र मोदी के खिलाफ संभावित उम्मीदवारों के नाम आते रहे हैं लेकिन अभी तक आधिकारिक घोषणा नहीं हुई है।