मुसलमा’नों के खिला’फ भ’ड़का’ऊ भाषण देना साध्वी प्राची को पड़ा महंगा, हिंदु’ओं से की थी ये अपील

नई दिल्लीः अक्सर अपने भड़का’ऊ बयानों की वजह से चर्चा में रहने वाली हिं’दुत्ववा’दी नेता साध्वी प्राची एक बार फिर भड़का’ऊ बयान को लेकर मुश्किल में फंस गई हैं। बागपत में कांवड़ यात्रा के दौरान भड़का’ऊ बयान देने के मामले में साध्वी प्राची के खिला’फ यूपी के बागपत के दोघाट पुलिस स्टेशन में मुकदमा दर्ज किया गया है। आरोप है कि साध्वी ने कांवड़ियों से अपील की थी कि वे मुस्लि’म समुदाय द्वारा बनाए गए कांवड़ों का बहिष्का’र करें। उन्हें मुसलमा’नो से न ख़रीदे।

द इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक बागपत के दोघाट पुलिस स्टेशन के सब इंस्पेक्टर भगवत प्रसाद शर्मा द्वारा प्राची के खिला’फ आईपीसी की धारा 153 153 ए 505 2 और 188 के तहत मामला दर्ज किया गया है। वहीं बागपत के एसपी शैलेश कुमार पांडे ने रविवार को द संडे एक्सप्रेस से फोन पर हुई बातचीत में कहा की इस मामले की जांच पूरी होने के बाद कार्रवाई की जाएगी।

prachi
Image Source: Google

अखबार के मुताबिक 24 जुलाई को उत्तर प्रदेश के बागपत जिले के दाहा गांव में कांवड़ शिविर का उद्घाटन करने पहुंची साध्वी प्राची ने अपनी एक अपील के जरिए विवा’द खड़ा कर दिया। उन्होंने हिंदु’ओं से अपील की थी कि वे मुसलमा’नों की बनाई कांवड़ का बहिष्का’र करें। साध्वी ने कहा कि मुस्लि’मों का बहिष्का’र होना चाहिए और हिंदु’ओं को रोजगार मिलना चाहिए।

साध्वी ने कहा की हरिद्वार में 99 फीसदी मु’सलमा’न हिंदुओं का कांवड़ बनाते हैं। उन्हें वहां से निकाल देना चाहिए। दाहा गांव में कांवड़ शिविर के उद्घाटन के मौके पर दिए गए साध्वी प्राची के इस नए विवादित बयान के बाद बागपत जिला प्रशासन ने फौरन हरकत में आते हुए घट’ना की जांच के आदेश दे दिए।

उधर विश्व हिंदू परिषद की नेता साध्वी प्राची ने बुधवार को दिए गए अपने बयान पर ना तो कोई सफाई पेश की है और ना ही पुलिस द्वारा किसी भी तरहे की जांच पर कोई टिप्पणी की है।

बता दें इससे पहले कैराना से समाजवादी पार्टी सपा के विधायक नाहिद खान ने मुसलमा’नों से भाजपा समर्थकों की दुकानों का बहिष्का’र करने की अपील की थी जिसे लेकर एक केस भी दर्ज की गई। बुधवार को दिए अपने ताजा बयान में साध्वी प्राची ने कहा कि जब भी इस तरह की बातें उठती हैं वे कैराना से ही शुरू होती है।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *