VIDEO: दुनिया के सबसे बड़े ऑयल प्‍लांट अरामको पर ड्रोन हम’ला, आग के साथ गो’ली बरी…

दुनिया की सबसे बड़ी तेल उत्पादक कंपनी अरामको के दो प्रतिष्ठानों में शनिवार को ड्रोन से दो धमा’के किए गए है जिसके चलते प्लांट में बु’री तरह से आ’ग फ़ैल गयी| सऊदी अरब के गृह मंत्रालय ने इसकी जानकारी देते हुए बताया की यह दोनों हम’ले प्रतिष्ठान अबकैक और खुरैस में स्थित अरामको के ऑइल फील्ड प्लांट में हुए हैं| बता दें कि अभी तक सरकार और अरामको की तरफ से घट’ना को लेकर कोई बयान नहीं आया है सबने अभी चुप्पी साध राखी है| अरामको में हुए धमा’के की जानकारी सबसे पहले दुबई के चैनल अल अरबिया ने दी जिसके माध्यम से इस घट’ना के बारे में पता चल पाया है और चैनल के माध्यम से ही बाद में यह बताया गया कि आग पर काबू पा लिया गया है।

जानकारी के लिए आपको बता दें कि अरामको दुनिया का सबसे बड़ा क्रूड ऑयल प्रोसेसिंग प्लांट है। यहां सॉर यानी खराब गुणवत्ता वाले क्रूड को स्वीट क्रूड में बदला जाता है। इसके बाद क्रूड को विदेशों में निर्यात के लिए फारस की खाड़ी और लाल सागर भेज दिया जाता है। एक आकलन के मुताबिक आपको बता दें कि अरामको में एक दिन में 70 लाख बैरल क्रूड ऑइल प्रोसेस किया जाता है।

इसी कामयाबी की वजह से पिछले कुछ सालों से अरामको प्लां’ट लगातार आतंकियों के निशाने पर रहा है। बता दें कि फरवरी 2006 में अलकायदा ने तेल कंपनी पर फिदायीन हमले की कोशिश की थी जिसे नाकाम कर दिया गया था।

इसी के चलते आपको बता दें कि रिलायंस इंडस्ट्रीज के ऑयल रिफाइनरी और केमिकल बिजनेस में सऊदी अरामको 15 अरब डॉलर यानी 1.06 लाख करोड़ रुपए में 20% हिस्सेदारी खरीदेगी। यह रिलायंस में अब तक का सबसे बड़ा विदेशी निवेश होगा और इसे देश के बड़े विदेशी निवेशों में भी शामिल किया जाएगा।

रिलायंस के चेयरमैन और एमडी मुकेश अंबानी ने अगस्त में कंपनी की 42वीं एजीएम में यह जानकारी देते हुए बताया कि अरामको से इस का एग्रीमेंट 75 अरब डॉलर यानी 5 लाख 32 हजार 466 करोड़ रुपए के वैल्यूएशन पर हुआ है।

इसी के साथ रिलायंस ने बताया कि अरामको से डील पूरी करने के लिए रेग्युलेटरी और अन्य मंजूरियां लेनी होंगी। इस डील के तहत अरामको जामनगर गुजरात स्थित रिलायंस की दो रिफाइनरियों को प्रतिदिन 7 लाख बैरल क्रूड सप्लाई करेगी जो कि सऊदी अरब की सरकारी तेल कंपनी है।

साभारः #DainikBhaskar