सऊदी बनवा रहा है यहाँ द्वीप की सबसे बड़ी एतिहासिक मस्जिद, दुनियाभर में चर्चाएँ

रियाद: मुस्लिम देश से एक खबर निकलकर सामने आये है| जानकारी के मुताबिक मालदीव के राजदूत अब्दुल्लाह हमीद ने बता है कि सऊदी अरब ने मालदीव में किंग सलमान अब्दुल अज़ीज़ के द्वारा एक एतिहासिक मस्जिद के निर्माण के लिए मालदीव को तकरीबन 24.95 मिलियन डॉलर ($ 6.65 मिलियन) की रकम दी है| इस रकम को देने के पीछे का मुख्या कारण है कि जल्द से जल्द इस मस्जिद निर्माण कार्य शुरू किया जा सके| हमीद ने बताया कि मालदीव के आवास एवं बुनियादी स्ट्रक्चर मंत्री डॉ.मोहम्मद मुइज्ज़ ने अपने ट्विटर अकाउंट पर इसकी अधिकारिक तौर पर घोषणा की है|

उन्होंने ट्वीट के ज़रिये बताया कि यह मस्जिद “दोनों देशों के बीच मजबूत संबंधों का प्रतीक है.” इस मस्जिद के निर्माण से दोनों देशों के सम्बन्ध पहले से और भी ज्यादा मज़बूत होंगे|

अरब न्यूज़ के मुताबिक, हमीद ने शुक्रवार को कहा, किंग सलमान अब्दुल अज़ीज़ मस्जिद 444,259 लोगों के द्वीप गणराज्य में सबसे बड़ी मस्जिद होगी. हमीद ने कहा कि 41,500 वर्ग फुट की मस्जिद में छह मंजिलें होंगी, चार लिफ्ट और 44,100 वर्ग फुट पार्किंग की जगह होगी|

साथ ही इस मस्जिद में मलटी-परपस हॉल, एक अंतरराष्ट्रीय पुस्तकालय, और कक्षाएं भी शामिल होंगी बनाई जाएंगी. हमीद ने कहा कि इस मस्जिद में 6,000 लोग एक ही वक़्त में एक साथ नमाज़ पढ़ सकतें है| हमीद ने कहा कि मालदीव की सरकार और उसके नागरिक किंग सलमान के शुक्रगुजार हैं|

क्योंकि यह मस्जिद सऊदी की तरफ से मालदीव के लिए तोहफा है. क्राउन प्रिन्स मोहम्मद बिन सलमान, सऊदी नागरिकों का मालदीव के नागरिकों के साथ भाइयों जैसा रिश्ता है| उन्होंने कहा, “सऊदी सिर्फ मस्जिद के निर्माण के लिए मदद नहीं कर रहा, इससे पहले भी सऊदी ने मालदीव के सामाजिक-आर्थिक विकास के लिए मालदीव की मदद की थी. यह पोस्ट सीधा बिना एडिट किये हुए पब्लिश की है जो वर्ल्ड न्यूज़ अरेबिया पोर्टल से ली गयी है|