सऊदी हुकूमत ने लाउडस्पीकर से अज़ान देने को लेकर बनाये नये कानून

सऊदी अरब सरकार ने अज़ान को लेकर नए कानून बनाए है. सऊदी अरब सरकार ने लाउडस्पीकर को लेकर नया कानून लागु कर दिया है जिसके बाद अब लाउडस्पीकर का वोल्यूम को लेकर नियम बनाए गए है. इसे लेकर सऊदी प्रेस एजेंसी ने गुरुवार को मंत्रालय के प्रवक्ता अब्दुलअज़ाज़ बिन सऊद अल-असकर के हवाले से इसका खुलासा किया.

एंजेसी ने बताया कि इस्लामिक मामलों के मंत्रालय, कॉल एंड गाइडेंस ने अज़ान को लेकर एक महत्वपूर्ण फैसला किया है. सरकार ने अज़ान और बाहरी लाउडस्पीकर के माध्यम से नमाज़ अदा करने के लिए एक बार फिर से नियमों का निर्धारित किया है.

अल-आस्कर ने जोर देते हुए कहा कि मंत्रालय ने रमजान के पवित्र महीने को देखते हुए देश में स्थिति सभी छोटी और बड़ी मस्जिदों में लाउडस्पीकरों को लेकर नियमों को निर्दिष्ट किया है, यह नियम पिछले कई वर्षों से लागू है और हर साल अपडेट कर दिया जाता है.

अल-आस्कर द्वारा उल्लिखित नियम में बताया गया है कि सऊदी सरकार के नियम के अनुसार अब बाहरी लाउडस्पीकरों की संख्या चार से अधिक नहीं होनी चाहिए. इसके आलावा वॉल्यूम स्तर 4 से अधिक नहीं होना चाहिए.

बताया जा रहा है कि ऐसा इसलिए किया गया है क्योंकि सऊदी में ज्यादातर मस्जिदें एक दूसरे के करीब हैं. इस फैसला का उद्देश्य लोगों को परेशान न करना और अन्य मस्जिदों में पूजा करने वालों को भ्रमित न करना भी है.

आपको बता दें कि बाहरी लाउडस्पीकरों का उपयोग करने पर प्रतिबंध केवल फुरोदेह मस्जिदों में तरावीह और क़ियाम नमाज़ के लिए लगाया गया है.

कहा गया है कि लाउडस्पीकर का इस्तेमाल बड़ी मस्जिदों तक सीमित है लेकिन यह अतिरंजित फैशन में नहीं होना चाहिए. यह नियम वही है जो कई सालों से परिपत्र के अनुरूप लागु है जिसे सालाना रमजान को देखते हुए अपडेट किया जाता है.