रामपुर की सीमाएं सील, धारा 144 लागू, सपा मुखिया अखिलेश यादव और आज़म खान पर कार्रवाई…

रामपुर: समाजवादी पार्टी के रामपुर से सांसद आजम खान पर की जा रही जिला प्रशासन की और से कार्रवाई के विरोध में समाजवादी पार्टी ने शक्ति प्रदर्शन का ऐलान किया है. इसे देखते हुए रामपुर में पुलिस प्रशासन अलर्ट जारी कर दिया है. और धारा 144 लागू कर दी गई है. रामपुर के सभी एंट्री पॉइंट पर गहन तलाशी अभियान चलाया जा रहा है. पुलिस के साथ ही पैरा मिलिट्री भी तैनात की गई है. रामपुर के कई मार्गो पर पैरा मिलिट्री भी तैनात है जिसको लेकर हर एक आने जाने वाले बहान की चेकिंग की जा रही है।

समाजवादी पार्टी के सांसद आज़म खान के ख़िलाफ़ हो रही सरकारी कार्रवाई का विरोध को लेकर सात ज़िलों के सपा कार्यकर्ता सुबह 10 बजे रामपुर पहुंचें। जिसमे सपा मुखिया ने अखिलेश ने बरेली पीलीभीत संभल बदौन अमरोहा मुरादाबाद और बिजनौर के पार्टी कार्यकर्ताओं से गुरुवार को सुबह 10 बजे रामपुर पहुंचने के लिए कहा है। ग़ौरतलब है कि पुलिस ने आज़म खान के ख़िलाफ़ दर्जनों मुकदमे दर्ज कर लिए हैं और उन्हें सरकारी पोर्टल पर भू माफिया भी घोषित कर दिया है।

Image Source: Google

वही रामपुर के डीएम आंजनेय कुमार सिंह का कहना है कि किसी को कानून हाथ में नहीं लेने दिया जाएगा. शांतिपूर्ण तरीके से प्रदर्शन किया जा सकता है. उन्‍होंने कहा कि जो किताबें बरामद हुईं वो गलत तरीके से जौहर विश्वविद्यालय में मिली थीं डीरएम ने कहा कि अरबी की किताबें जौहर विश्वविद्यालय में क्‍यों थीं, जबकि अरबी विषय जौहर विश्वविद्यालय में पढ़ाया ही नहीं जाता?

उत्तर प्रदेश पुलिस ने बुधवार को रामपुर में समाजवादी पार्टी के सांसद आज़म खान के बेटे अब्दुल्ला आज़म खान को कई घंटे हिरासत में लिए रखा। पुलिस का कहना है कि आज़म खान की जौहर यूनिवर्सिटी की लाइब्रेरी से बरसो पहले चोरी हुई किताबें बरामद हुई हैं।

पुलिस उसी की जांच-पड़ताल के लिए कैंपस में गई तो आज़म खान के विधायक बेटे अब्दुल्ला आज़म खान ने उन्हें इससे रोका। पुलिस हिरासत से शाम को छूटे अब्दुल्ला ने कहा कि यह सब इसलिए हो रहा है क्योंकि उत्तर प्रदेश में कानून का राज खत्म हो गया है।