शामली की बहू महनाज खान बनीं जज तो ससुराल में बंटी मिठाईयां, खुशी से झूम उठा परिवार

नई दिल्ली: लखनऊ उत्तर प्रदेश न्यायिक सेवा सिविल जज जूनियर डिवीजन परीक्षा 2018 UP PCS-J 2018 के चयन परिणाम की घोषणा कर दी गई है। आयोग ने अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर इन नतीजों की घोषणा की है। जिन्होंने यह परीक्षा दी थी वो ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर नतीजे चेक कर सकते हैं। इस साल शामली जनपद के बंतीखेड़ा गांव के पूर्व प्रधान राव मेहरवान अली की पुत्रवधु महनाज खान का चयन हुआ है। जिसके बाद से पूरे प्रदेश में जमकर खुशियाँ मनाई जारही हैं।

इनके अलावा कानपुर के लाल बंगला निवासी तुषार जायसवाल ने सफलता प्राप्त करके शहर का नाम रोशन किया तो बाबूपुरवा सर्किल सीओ की पत्नी का चयन होने से खुश नजर आई। जबकि नैनीताल उत्तरखंड के हरिहर गुप्ता ने दूसरी रैंक प्राप्त की है। वहीं आजमगढ़ के प्रतीक तिवारी को तीसरा और गाजियाबाद की एकाग्रता सिंह को चौथा स्थान हासिल किया है।

Image Source: Google

आपको बता दें इस परीक्षा में चयनित महनाज 28 मूल रूप से मेरठ की रहने वाली हैं। करीब एक साल पहले ही उनकी शादी बंतीखेड़ा के बुलंद राव से हुई थी, जो पूर्व प्रधान राव महरबान अली के बेटे हैं। बुलंद राव दुबई में प्राइवेट कंपनी में सीनियर रिलेशनशिप मैनेजर के पद पर कार्यरत हैं।

शनिवार रात जब उन्हें रिजल्ट की जानकारी मिली तो वह गांव में ही थीं और इस खबर से पूरा परिवार खुशी से झूम उठा। सास नफीसा बेगम ने उसे गले से लगा लिया। महनाज ने फोन पर पति को पीसीएसजे में चयन की जानकारी दी।

आपको बता दें कि महनाज का चयन सिविल जज जूनियर डिवीजन के लिए हो गया है। महनाज के पिता बाबू खान मेरठ में ही रहते हैं। परिजनों के अनुसार महनाज की स्कूली पढ़ाई मेरठ के कृष्णा पब्लिक स्कूल कंकरखेड़ा से हुई। उन्होंने अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी से बीए एलएलबी एलएलएम किया। एक साल पहले ही शादी होने के बाद वह बंतीखेड़ा में बहू बनकर आई हैं।

Leave a comment