बेहद शर्मनाक: पीएम मोदी के गुजरात में चौंकाने वाली खबर, 68 छात्राओं के कपड़े उतार कर की गई जांच, मचा हड़कंप

गुजरात: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के गुजरात के कच्छ जिले से एक चौंकाने वाली खबर सामने आ रही है। जहां एक ओर सड़क से लेकर सोशल मीडिया तक पीरियड को लेकर जागरूकता फैलाई जा रही है, वहीं आज भी कई जगह इसे एक टैबू माना जाता है। गुजरात के भुज में एक गर्ल्स हॉस्टल की 68 लड़कियों को माहवारी होने का ‘सबूत’ देने के लिए महिला टीचरों के सामने कपड़े उतारने पड़े।

कच्छ जिले के भुज में सहजानंद गर्ल्स इंस्टिट्यूट की 68 लड़कियों को सैनेटरी पैड होने का सबूत देखने के लिए टीचरों ने 68 लड़कियों के कपड़े उतरवा दिए। यह शर्मनाक घटना सहजानंद गर्ल्स इंस्टिट्यूट की है। इस घटना सामने आने के बाद कच्छ यूनिवर्सिटी प्रशासन ने आनन-फानन में एक पांच सदस्यीय जांच कमिटी बनाई गई है।

सैनेटरी पैड मिलने पर हुआ बवाल

बता दें भुज के सहजानंद गर्ल्स इंस्टिट्यूट की प्रिंसिपल ने यह जानने के लिए कि सैनेटरी पैड किसने फेंका? 68 छात्राओं के कपड़े उतार कर उनकी जांच कराइ गई। गुरुवार को कमिटी की अध्यक्ष प्रभारी वाइस चांसलर दर्शना ढोलकिया ने दो अन्य महिला प्रफेसरों के साथ कॉलेज का दौरा किया। ढोलकिया ने कहा, हम लड़कियों से और कॉलेज प्रशासन से एक-एक कर बात करेंगे और उसके बाद कार्रवाई करेंगे।

यह शर्मनाक घटना सामने आने के बाद इसकी चौतरफा आलोचना हो रही है। एक लड़की ने कहा, यह पूरी तरह मानसिक टॉर्चर है और हमारे पास इसे बताने के लिए शब्द नहीं हैं। उसने बताया कि कुल 68 लड़कियों को इस प्रिंसिपल के सामने इस टेस्ट से गुजरना पड़ा।

वही इस इंस्टीच्यूट की एक और चौकाने वाली बात की इस इंस्टीच्यूट के छात्रावास में रहने वाली लड़कियों के लिए कुछ अलग नियम बनाए गए हैं। यहां के नियमों के मुताबिक जिस छात्रा को पीरियड आता है वो हॉस्टल के कमरे में नहीं बल्कि बेसमेंट में रहती है।

और इतना ही नहीं लड़कियों को पीरियड आने पर उन्हें रसोईघर में घुसने और पूजा करने की इजाजत नहीं है। पीरियड खत्म हो जाने तक उन्हें अकेले में रहना पड़ता है। इतना ही नहीं पीरियड आने वाली लड़कियों को क्लास में अंतिम बेंच पर भी बैठना पड़ता है।

इस मामले में पीड़ित छात्राओं का कहना है कि बीते सोमवार को छात्रावास के बाहर स्थित उद्यान में एक सैनेटरी पैड मिला था। छात्रावास प्रबंधन को यह शक हो गया कि कॉलेज की ही किसी छात्रा ने यहां पैड फेंका है। यह काम किसने किया? यहीं जानने के लिए छात्राओं के साथ ऐसा व्यवहार किया गया।

Leave a comment