सोनभद्र नरसंहा’र का वीडियो: अंधाधुंध गोलियों के बीच चीखते दिखे लोग, खेत में बिछी ला’शें

यूपी: सोनभद्र जिले में पिछले 17 जुलाई को हुए नरसंहार का खौफना’क वीडियो सामने आया है। जिले के घोरावल कोतवाली के मूर्तिया ग्राम पंचायत के उम्भा गांव में जमीनी विवाद में हुए 10 लोगों की नृशं’स ह@त्या का पहला वीडियो सामने आया है. इस वीडियो में सैकड़ों लोग ला’ठी डं’डे से संघ’र्ष करते नजर आ रहे हैं। इस वीडियो में गोलि’यों की तड़ातड़ाह’ट के बीच लोगों की ची’ख पुकार मची हुई। वीडियो के अनुसार, हालात इतने खौफना’क है कि सिर्फ और सिर्फ खू’न से सनी ला’शें और रोने पीटने की आवाज़ ही सुनाई दे रही है।

ग्रामीणों के मुताबिक बताया जा रहा है कि यह वीडियो घटना स्थान पर मौजूद किसी प्रत्यक्षदर्शी ने बनायी है. वीडियो में साफ साफ देखा जा सकता है कि लाठी-डंडों से दोनों पक्षों में मारपी’ट हो रही है साथ ही गोलि’यां भी चल रही है. वीडियो में लोग अपनी जा’न बचाकर यहाँ से वहां भागते भी नजर आ रहे हैं।

Image Source: Google

इस वीडियो में एक शख्स पूछ रहा है कि किसने गो’ली मारी तो वहां मौजूद लोग भागते हुए नजर आ रहे हैं। वीडियो में घटना के तुरंत बाद होने वाली चीख-पुकार भी सुनाई दे रही है। बता दें इस नरसंहा’र में 10 लोगों की मौ@त हो गई थी, जबकि 24 से ज्यादा लोग घायल हो गए थे। इस मामले में प्रशासन ने अभी तक 29 लोगों की गिरफ्तार किया है।

गौरतलब है कि 17 जुलाई को गुर्जर समुदाय के लोगों ने गोंड आदिवासियों पर जमीन के कब्जे को लेकर हमला कर दिया था। गांव के प्रधान यज्ञदत्त गुर्जर ने एक बड़ी जमीन खरीदी थी, लेकिन इस पर पीढ़ियों से आदिवासी खेती करते आ रहे थे। इसी बीच प्रधान टैक्टर ट्राली में भरकर 200 से ज्यादा लोगों को लेकर इसी जमीन पर कब्जा करने के लिए आया था।

इस दौरान प्रधान के लोगों ने आदिवासियों पर बंदू’क, डं’डा, गंडा’से और दूसरे हथिया’रों से हम’ला कर दिया जिसमें 10 लोगों की मौ@त हो गई। वहीं 24 से ज्यादा घायल हो गए।इस मामले में 29 लोगों की गिरफ्तार किया है। साथ ही कई अन्‍य लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। वहीं जिले में 2 महीने तक धारा 144 लगा दी गई है।

इस नरसंहार के बाद जब शुक्रवार को कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी सोनभद्र में मृत’कों के परिजनों से मिलने पहुंची थीं। अस्पता’ल में घायलों से मुलाकात करने के बाद कांग्रेस महासचिव उम्भा गांव में मृत’कों के परिजनों से मिलने जा रही थीं, इसी दौरान उन्हें रास्ते में पुलिस ने रोक लिया था। इसके बाद पुलिस उन्हें चुनार गेस्ट हाउस ले गई थी।

पीड़ितों से मिलने की मांग करते हुए चुनार गेस्ट हाउस में प्रियंका गांधी धरने पर बैठ गई थीं। शुक्रवार की रात उन्होंने भषण गर्मी में गेस्ट हाउस में धरने पर गुजारी। 24 घंटे बाद पीड़ितों ने चुनार गेस्ट हाउस के बाहर प्रियंका गांधी से मुलाकात की। इसके बाद उन्होंने अपना धरना खत्म किया था। वहीं रविवार को सीएम योगी ने सोनभद्र का दौरा किया।