आज़म खान का समर्थन करते हुए मुलायम बोले-जुल्म के खिलाफ कार्यकर्ता आंदोलन करें, मैं दूंगा साथ

समाजवादी पार्टी के संरक्षक और विरिष्ठ नेता मुलायम सिंह यादव अपनी पार्टी के नेता व सांसद आजम खां के बचाव के लिए आगे आए हैं। करीब दो वर्ष के बाद लखनऊ स्थित समाजवादी पार्टी कार्यालय में पत्रकारों से बात करते हुए मुलायम सिंह ने कहा कि आजम ने गरीबों की लड़ाई लड़ी है। चंदे के पैसे से रामपुर में जौहर यूनिवर्सिटी बनाई, जिसमें देश-विदेश के छात्र पढ़ते हैं। इसमें मेरा और मेरे साथियों का भी सहयोग रहा है। सैकड़ों बीघा जमीन खरीदने वाला इंसान डेढ़ दो बीघा जमीन की बेईमानी नहीं कर सकता है। उन्होंने कहा कि मैं समाज बादी पार्टी के नेताओं से बात करके आंदोलन की रूपरेखा तैयार करूंगा।

मुलायम सिंह ने भाजपा के कुछ नेताओं का नाम बताने से मना करते हुए कहा कि भाजपा के यह कुछ नेता भी आजम के खिलाफ हो रही कार्रवाई से नाराज हैं। इसके बाद उन्होंने कहा कि जरूरत पड़ने पर वह आजम के मुद्दे पर प्रधानमंत्री मोदी से भी मिलेंगे। हम आजम खां पर जुल्म बर्दाश्त नही करेंगे।

मुलायम ने जम्मू कश्मीर व बसपा गठबंधन जैसे विवादित मुद्दों से किनारा करते हुए पत्रकारों से आजम के पक्ष में लिखने की अपील की है। उन्होंने आजम को ईमानदार व देश का अच्छा नेता बताया है।

इसी के साथ मुलायम ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि आजम खां संघर्ष करके निकले हैं। उन्होंने विधायक कोटे की राशि भी विश्वविद्यालय में लगा दी है। बता दें कि मुलायम ने प्रदेश के सभी समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं और नेताओं से अपील करते हुए कहा कि जिस प्रकार से आजम खां को अपमानित किया जा रहा है, उसके खिलाफ सभी तैयार हो जाएं।

उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश में आंदोलन होगा और इस आंदोलन की शुरुआत मैं स्वयं करूंगा। मुझ पर भी तमाम मुकदमे झूठे लगाए गए थे। मैं एक दर्जन जेलों में रहा हूं। इसके बाद मुलायम ने मीडिया से अपील करते हुए कहा कि आजम खां के साथ बदले की करवाई के विरोध में लिखें और खबर को ज्यादा से ज्यादा चलाएं।

साभारः #AmarUjaala