बड़ी खबर: पुलिस जाँच में तबलीगी जमात को मिली क्लीन चिट, फ़’र्ज़ी निकला पूरा मामला, देखिए

सहारनपुर: उत्तर प्रदेश में सहारनपुर के रामपुर मनिहारिन स्थित क्वारंटीन सेंटर में ठहरे कोरोना पी’ड़ितों ने मां’साहा’री भोजन की मांग को लेकर हंगामा किया। उप जिलाधिकारी एस एन शर्मा ने रविवार को बताया कि के के जैन इन्टर कालेज में कोराना के सं’दिग्ध जमातियो ने क्वारंटीन सैन्टर मे नानवेज की मांग को लेकर हंगामा किया। और जमातियों में शामिल कुछ लोग खुले में शौ’च कर रहे थे।

दरअसल, दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में शामिल होने के बाद बड़ी संख्या में जमाती उप्र के कई जिलों में पहुंचे हैं थे जिसके बाद योगी सरकार संदिग्ध जमातियो की पहचान कर क्वारैंटाइन कराया था। लेकिन आरोप लगे की इन जमातियों के व्यवहार से अस्पताल के मेडिकल स्टाफ और पुलिसकर्मी बहुत परेशान हैं। और अस्पताल में स्टॉफ के साथ दुर्व्यवहा’र कर रहे हैं।

वही उत्तर प्रदेश के जनपद सहारनपुर में रामपुर मनिहारिन स्थित क्वारंटीन सेंटर में ठहरे संदिग्ध कोरोना पी’ड़ितों द्वारा मां’साहा’री भोजन की मांग को लेकर हंगामा किये जाने की खबर की जाँच पर सहारनपुर पुलिस ने मीडिया रिपोर्टों का खंड’न करते हुए एक ट्वीट किया है जिसमे यह खबर फ’र्जी निकली है।

दरअसल, अमर उजाला की खबर में लिखा था उत्तर प्रदेश के बिजनौर के बाद सहारनपुर में भी जमात का एक नया मामला सामने आया है। जब उन्हें मां’साहा’री भोजन नहीं मिला, तो यहां के जमातियों ने खाना फें’क दिया और खुले में शौ’च किया। सहारनपुर पुलिस ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से ट्वीट कर मीडिया आउटलेट्स के इस दावों उन्हें गलत और अस’त्य पाया गया है।

आपको बता दें पिछले कुछ दिनों तब्लीगी जमात से जुड़े सदस्यों की इसी तरह की मीडिया रिपोर्टें आईं हैं जिनमें कथित रूप से दावा किया गया था कि आगरा, कानपुर और गाजियाबाद में संगरो’ध सुविधाओं में कर्मचारियों के साथ दुर्व्यवहा’र किया गया था।