Tag: अल्लाह के रसूल

इस दिन अल्लाह सुबहानहु अपने बन्दों को आग से आज़ाद कर देते हैं, चाहे वो कितना भी गुनहगार…

आईशा रदी अल्लाहू अन्हा से रिवायत है की रसूल्लअल्लाह सलअल्लाहू अलैही वसल्लम ने फरमाया अरफ़ा से बढ़ कर कोई दिन ऐसा नही जिसमें अल्लाह सुबहानहु अपने बन्दों को आग से आज़ाद करता हो जितना की रफ़ा के दिन आज़ाद करता है|...

आप (स.अ.व.) फ़रमाते हैं जब कोई इस नाम से अल्लाह से दुआ माँगता है तो वो जल्दी कुबूल हो जाती है

रसूल-अल्लाह सललाल्लाहू अलैही वसल्लम ने एक शख्स को ये दुआ करते हुए सुना اللَّهُمَّ إِنِّي أَسْأَلُكَ أَنِّي أَشْهَدُ أَنَّكَ أَنْتَ اللَّهُ لاَ إِلَهَ إِلاَّ أَنْتَ الأَحَدُ الصَّمَدُ الَّذِي لَمْ يَلِدْ وَلَمْ يُولَدْ وَلَمْ يَكُنْ لَهُ كُفُوًا أَحَدٌ अल्लहुम्मा इन्नी असअलूका अन्नी...

आइये जानते है इस्लाम में सबसे मज़बूत अमल कौन सा है इसके बारे में !

हमारे प्यारे नबी मोहम्मद सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम ने एक बार सहाबियों से फ़रमाया की क्या तुम जानते हो इस्लाम में सबसे मज़बूत अमल कौन सा है, तो सहाबियों ने अलग अलग अमल बताया जैसा की किसी ने कहा की नमाज़ पढ़ना...

हदीस: ये काम करके जो कोई नमाज़ के लिए घर से निकलता है तो उसको एक हज करने का सबाब…

हज़रत अबू उमामा रदी अल्लाहू अन्हु से रिवायत है की रसूल-अल्लाह सल-अल्लाहू अलैही वसल्लम ने फरमाया जो शख्स अपने घर से वज़ु करके फ़र्ज़ नमाज़ की नियत से निकले तो उसको उतना सवाब मिलेगा जितना की एहराम बाँध कर हज पर...

जब एक हब्शी ने हुज़ूर (स.अ.व.) से पूछ हम खाना खाते हैं लेकिन पेट नही भरता, तो आपने जवाब दिया…

उमर बिन अबू सलमा रदी अल्लाहू अन्हु से रिवायत है की मैं एक बार रसूल-अल्लाह सल-अल्लाहू अलैही वसल्लम की खिदमत में हाज़िर हुआ तो आपके सामने खाना रखा हुआ था आप सल-अल्लाहू अलैही वसल्लम ने फरमाया बेटा क़रीब हो जाओ और...

कुर्बानी करने से पहले ये बातें जो अक्सर लोग नज़रंदाज़ कर जाते हैं, आपको भी जान लेना चाहिए

क़ुरबानी के लिए बकरा बकरी की उम्र 1 साल मुतय्यन है कि अगर इसमें एक दिन भी कम होगा तो जानवर हलाल है मगर क़ुरबानी हरगिज़ न हुई मगर अबु दर्दा रज़ियल्लाहु तआला अन्हु को 6 माह के बकरी के बच्चे...

बकरीद: अब 22 को नहीं 23 अगस्त को मनाई जायेगी ईद उल जुहा, जामा मस्जिद से हुआ एलान और सरकार ने भी…

बकरा ईद, बकरीद, ईद-उल-अजहा या ईद-उल जुहा भारत में 23 अगस्‍त को मनाई जाएगी. इस बात का ऐलान जामा मस्जिद ने किया है. उधर, केंद्र सरकार ने मंगलवार को ईद-उल-जुहा के लिए छुट्टी में बदलाव की घोषणा करते हुए कहा कि...

क़िस्सा: अल्लाह के रसूल हुज़ूर (स.अ.व.) के ज़माने में क़ुर्बानी कैसे हुआ करती थी यहाँ देखें !

अता इब्न यासिर बयान करते हैं की मैने अबू अय्यूब अंसारी रदी अल्लाहू से पूछा की रसूल-अल्लाह सलअल्लाहू अलैही वसल्लम के ज़माने में क़ुर्बानी कैसे हुआ करती थी तो उन्होने फरमाया की एक आदमी अपने और अपने घरवालों की तरफ से...

अल्लाह के लिए ही तमाम तारीफें हैं जिसने हमें मौत देकर फिर से ज़िंदा किया और उसी की तरफ लौट कर जाना है

रसूल-अल्लाह सल-अल्लाहू अलैही वसल्लम जब सुबह बेदार होते (यानी नींद से जागते) तो ये फरमाते الْحَمْدُ للهِ الَّذِي أَحْيَانَا بَعْدَ مَا أَمَاتَنَا وَإِلَيْهِ النُّشُورُ अल्हम्दुलिल्लाहि अल्लज़ी अहयाना बा’दा मा अमाताना व इलायहिन नुशुर अल्लाह के लिए ही तमाम तारीफें हैं जिसने...

हदीस: कोई भी शख्स ऐसा नही कि उसका दिल अल्लाह की दो उंगलियो के बीच में ना हो, वो जिसको चाहता है…

शाहर बिन हौशब रदी अल्लाहू अन्हु से रिवायत है की मैने उम्म सलमा रदी अल्लाहू अन्हा से पूछा की एह उम्मुल मोमीनीन रसूल-अल्लाह सल-अल्लाहू अलैही वासल्लं आपके पास जब रहते तो अक्सर कौनसी दुआ किया करते थे , उन्होने जवाब दिया....