उत्तर प्रदेश: मदरसा छात्रों की कथि’त पि’टाई पर उन्नाव में तना’व

उन्नाव: उत्तर प्रदेश के उन्नाव में मदरसे के बच्चों को जय श्रीराम के नारे लगाने के लिए मजबूर किया गया था मदरसे के बच्चों द्वारा जय श्री राम के नारे नहीं लगाने पर उनकी बेरह’मी से पिटा’ई की गई. इस घटना में कई बच्चे ज’ख्मी हो गए. मदरसे के लोगों का आरोप है कि हम’ला करने वाले लोग बजरंग दल के है हम’लावरों ने कई बच्चों की साइकिल भी तोड़ दी थी अब कथित तौर पर ‘जय श्रीराम’ नहीं बोलने पर मदरसा छात्रों की पिटा’ई का मामला तूल पकड़ता जा रहा है।

पुलिस ने इस मामले में चार लोगों के ख़िलाफ़ केस दर्ज करके दो लोगों को हिरासत में लिया है लेकिन कुछ हिन्दू संगठनों ने मामले को ग़लत बताते हुए पुलिस पर एकतरफ़ा कार्रवाई के आरोप लगाए हैं. मदरसा छात्रों की पिटा’ई के बाद मुस्लि’म समुदाय के लोगों की कथित धमकी और फिर हिन्दू संगठनों के विरो’ध प्रदर्शन के कारण शुक्रवार को पूरा उन्नाव शहर छा’वनी में तब्दील रहा।

Image Source: Google

प्रदर्शन कर रहे हिन्दू युवा वाहिनी के एक पदाधिकारी रघुवंश का कहना था, मामूली सी झड़प को जानबूझकर कुछ लोग धार्मिक रंग देने की कोशिश कर रहे हैं. जिन छात्रों से वीडियो पर मारपी’ट और जय श्रीराम बोलने का दबाव बनाने का आरो’प लगाया जा रहा है, उस वीडियो की जांच कराई जाए क्योंकि वह वीडियो किसी के कहने पर बना है।

Image Source: Google

दरअसल मामला ये है की गुरुवार को उन्नाव के जीआईसी मैदान में क्रिकेट मैच खेल रहे मदरसा दारुल उलूम के छात्रों और कुछ युवकों में झड़’प हो गई. बताया जा रहा है कि मदरसा छात्रों की कथि’त पिटा’ई के बाद दोनों ओर से पत्थ’रबा’ज़ी की गई. हिन्दू संगठन पिटा’ई और झड़प की बातों को बेबुनियाद बता रहे हैं और वही मदरसे के लोग पीड़ित छात्रों के बयान के वीडियो सोशल मीडिया के ज़रिए लोगों तक पहुंचा रहे हैं।

इस मामले में मदरसा संचालक नईम का कहना था कि इन छात्रों से कुछ लोगों ने ज़बरन ‘जय श्रीराम’ के नारे लगाने को मजबूर किया और ऐसा न करने पर बैट से उनकी पिटा’ई की गई मदरसे के 12-14 साल के बच्चे जीआईसी ग्राउंड में क्रिकेट खेल रहे थे. वहां कुछ बड़े बच्चे पहुंचे और बैट छीनकर बच्चों से ‘जय श्रीराम’ बोलने को कहा. बच्चों ने कहा कि हम नहीं बोलेंगे क्योंकि हमारे यहां ऐसा नहीं होता है तो उन्हीं के बैट से और स्टंप से बच्चों को पीटा गया. कुछ बच्चों का तो सिर भी फट गया है।

Image Source: Google

वही उन्नाव के सीओ सिटी उमेश चंद्र त्यागी का कहना था कि जांच में जो भी दोषी पाया जाएगा उनके ख़िलाफ़ कार्रवाई होगी, चार लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. जिन बच्चों को पी’टने की बात कही गई है, उनका मेडिकल कराया जा रहा है. जो भी दोषी पाए गए, उनके ख़िलाफ़ सख़्त कार्रवाई होगी।