ब्रिटिश प्रधानमंत्री ने मु’स्लि’म महिलाओं को लेकर की आ’पत्तिज’नक टिप्पणी, सिख सांसद ने दिया करा’रा जवाब

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने मुस्लि’म महिलाओ को लेकर बि’वादि’त बयान दिया है जिसको लेकर अभी पूरे सोशल मीडिया पर धू’म मची हुई है| हर कोई उनके इस बिवादि’त बयान की आलोचना कर रहा है| वहीँ दूसरी ओर सोशल मीडिया पर भी इसको खूब शेयर किया जा रहा और विरोद प्रदर्शन किया जा रहा है| आपको बता दें कि जॉन’सन ने अपने बयान में मुस्लि’म महिलाओं के बुर्के की तुल’ना करते हुए कहा था कि बुर्का पहने हुई महिलाएं किसी बैंक लुटे’रे या लेटर बॉ’क्स की तरह लगती हैं।

इस बयान के बाद उनके विपक्षी संसदों ने भी उनकी खूब आलोचना की हैं लेकिन बता दें कि इस बयान को लेकर PM ने अब तक कोई माफ़ी नहीं मांगी है और ना ही कोई शर्म जताई है बल्कि उन्होंने यह और कहा कि वह मॉर्डन ब्रिटेन का प्रति’निधि’त्व करते हैं।

आपको बता दें कि PM जॉनसन ने अपने बयान में बुर्के की तुलना करते हुए कहा कि बुर्का पहननेवाली स्त्रि’यां बिल्कुल लेटर बॉक्स की तरह लगती हैं या फिर किसी बैंक लूट’ने के लिए निकले लुटेरे की तरह लगती हैं। जॉनसन के इस बयान की काफी आलोचना करते हुए लोगों ने इसे रेसिस्ट कॉमेंट का नाम दिया है।

बता दें कि जॉनसन को इस बिवादित बयान के लिए उनकी लेबर पार्टी के सांसदों की ओर से माफी मांगने की मांग भी की गयी लेकिन उन्होंने इस मांग को भी पूरी तरह से नजरअंदाज कर दिया है।

इसी के साथ लेबर पार्टी के सिख सांसद तमनजीत सिंह ढेसी ने इस बयान को आ’पत्तिज’नक और रंगभे’द को बढ़ावा देनेवाला बयान बताते हुए कहा कि अगर मैंने पगड़ी पहनने का फैसला किया है तो आपने क्रॉस पहनने का फैसला किया है। किसी ने बुर्का पहनने का किया है तो किसी ने हिजा’ब पहनने का चयन किया है|

इसके बाद उन्होंने कहा कि हर किसी को अपने ध’र्म का पालन करने का अधिकार है तो क्या यह इस सदन के सम्मानित सदस्यों का अधिकार है कि वह किसी के व्यक्तित्व पर आ’पत्तिज’नक और अभद्र कॉमेंट करें? बता दें कि लेबर पार्टी के सिख सांसद की सदन में दी गयी प्रतिक्रिया को सोशल मीडि’या में भी लोग जमकर शेयर कर रहे हैं।