मेट्रो में लड़की का वीडियो हुआ वायरल, अब खुद सामने आकर बताया पूरा सच वहां क्या हुआ था

दोस्तों कुछ दिन पहले की बात है सोशल मीडिया के जरिए एक लड़की का मेट्रो के अंदर बनाया हुआ वीडियो तेजी से वायरल हो रहा था. जिसमें एक हरियाणा की महिला एक युवती से चिल्ला-चिल्ला कर कह रही हैं “क्या यही सिखाया है तेरे घरवालों ने” वह लगातार उसके घरवालों पर भी इल्जाम लगा रही हैं, पता नहीं उन्होंने इस लड़की को मेट्रो के अन्दर किस हाल में देखा तो उनका पारा तेज़ी से ऊपर हो गया था.

वह हरयाणवी ताई उसको काफी देर तक ताने सुनती रहीं. जबकि वहां मौजूद कुछ लोगों ने कहा भी जाने दे ताई. उसपर वह कहती हैं की ऐसे कैसे जाने दूं. वह उस लड़की पर इतना गुस्सा हो गई कि किसी की बात सुनने को तैयार नहीं थीं. और काफी देर तक लड़की के ऊपर बढ़बढ़ाती रहीं..

अब जिस लड़की का वीडियो वायरल हुआ था, खुद उसने ही वीडियो बनाकर लोगों को समझाया है कि उस दिन में मेट्रो में क्या हुआ था. और लोगों को जब तक पूरा सच पता ना हो किसी का वीडियो इस तरह से शेयर नहीं करना चाहिए. हालांकि सोशल मीडिया पर यह वीडियो लोक संस्कृति और तहजीब से जोड़कर देख रहे कुछ लोग भी उसको तरह-तरह से कमेन्ट कर रहे हैं.

लड़की अपने साथ हुई कहानी को बयान कर रही है, कि एक तो वह आंटी पुराने ख्यालात की है, और मुझे उनकी इस बात से जरा भी फर्क नहीं पड़ता कि उन्होंने मुझे दांता. उनकी अधिकतर बातें मेरी समझ में नहीं आ रही थी, हम लोग उस दिन मेट्रो में डांस क्लास के बाद लौट रहे थे.

में पिछले 3 महीने से डांस की क्लास ले रही हूँ और हमारा ग्रुप वापस लौटते में सभी दोस्त मेट्रो में वह स्टेप्स को दोहराते हैं. तब लड़की ने कहा कि शायद आंटी को उन लोगों का कोई व्यवहार बुरा लग गया हो, तो उसके लिए मैं माफी मांगती है.

साथ ही यह बताती है कि लोगों ने एक तरह से गलत धारणा के साथ मेरा वीडियो शेयर किया, जो मेरी छवि को खराब करता है. उन्हें ऐसा नहीं करना चाहिए. क्योंकि उन्हें पूरी बात पता नहीं है, उन्होंने वह नहीं देखा है जब उस आंटी ने मेरे बाल पकड़कर मुझे ज़ोर से झंजोड़ दिया था.

द प्रिंट की रिपोर्ट के अनुसार यह लड़की दिल्ली यूनिवर्सिटी से पढ़ाई कर रही है. लड़की के मुताबिक वीडियो में सिर्फ उतना ही दिख रहा है, कि जब वह आंटी मुझ पर चिल्ला रही थी. लेकिन जब उन्होंने मेरे बाल पकड़कर मुझे ज़ोर से झंजोड़ा तब वहां मौजूद किसी भी व्यक्ति ने मेरी मदद नहीं की मुझे कोई बचाने नहीं आया.

मुझे उनकी कोई बात समझ नहीं आ रही थी, लेकिन मेरे दोस्त ने बताया कि ये तेरे माँ बाप को लेकर तुझे कह रही हैं तब उसने उनको जवाब दिया कि मैं 18 साल से ऊपर की हूं, अधिकतर बातें मुझे उनकी समझ में नहीं आई. मेरे दोस्तों ने मुझे चुप रहने के लिए कहा.

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *