लव मैरिज कर भागी विधायक की बेटी तो भड़क उठे अयोध्या के संत, कहा- बाप ने लायक बनाया और बेटी ने दलित को अपनाया

भारतीय जनता पार्टी के उत्तर प्रदेश के बरेली बिथरी चैनपुर सीट से विधायक राजेश मिश्रा उर्फ़ पप्पू भरतौल के खिलाफ उनकी ही बेटी उतर आई है। बेटी ने सोशल मीडिया पर वीडियो पोस्ट कर आरोप लगाया है कि अपनी मर्जी से शादी करने की वजह से उसके पिता उसकी ह@त्या करना चाहते हैं। साथ ही इलाहाबाद हाईकोर्ट में रिट याचिका भी दायर की है। हालांकि विधायक ने इन आरोपों को खारिज करते हुए कहा है कि उनकी बेटी बालिग़ है और उसे अपने निर्णय लेने का हक है। हमें उसके किसी भी फैसले पर आपत्ति नहीं है। बता दें कि अजितेश अनुसूचित जाति का है।

गुरुवार को सुरक्षा के लिए हाईकोर्ट में याचिका दाखिल करने के बाद साक्षी मिश्रा खुद पेश नहीं हो सकी। याची के पेश न होने से अब इसकी सुनवाई 15 जुलाई को होगी। दायर याचिका में कहा गया है कि उसने अपनी पसंद से अजितेश के साथ शादी कर ली है। याचिका में शादी के खिलाफ अपने पिता व परिवार के दूसरे लोगों से जा’न का खत’रा बताया गया है। दोनों के शांतिपूर्ण जीवन में किसी के हस्तक्षेप पर रोक लगाने की मांग की गई है।

 

अब साक्षी मिश्रा के दलित युवक से शादी करने के मामले में अयोध्या के महंत परमहंस दास ने कड़ी निंदा की है बीजेपी विधायक के पक्ष में बोलते हुए महंत परमहंस दास ने साक्षी मिश्रा और उनके पति अजितेश कुमार को ही कठघरे में खड़ा कर दिया है. दलित युवक से शादी करने के मामले में महंत ने कहा कि अजितेश साक्षी के भाई का दोस्त था और जिस तरह उसने उनकी ही बहन को प्रेम जाल में फंसाया यह विश्वासघात है।

परमहंस दास आगे कहा कि इस तरह की घटनाओं से कोई भी किसी को अपने घर नहीं आने देगा. जिस माता-पिता ने साक्षी को पाल पोश कर इतना बड़ा किया और उसे लायक बनाया वहीं बेटी अब पिता को बदनाम कर रही हैं. वही न्यूज 18 से बातचीत के दौरान साक्षी ने कहा कि मैंने गलती तो की है लेकिन ऐसे हालात हो गए थे. इसलिए मुझे ऐसा करना पड़ा. पापा मुझे माफ कर देना।

आपको बता दें कि साक्षी ने दलित युवक अजितेश कुमार से 4 जुलाई को प्रयागराज के राम जानकी मंदिर में लव मैरिज की थी इसके बाद साक्षी ने फेसबुक पर ही एक और वीडियो पोस्ट किया। इसमें वह अकेले थीं। इसमें वह अपने पिता से कहती हैं मैंने सिंदूर फैशन में नहीं गला रखा है। मैंने सच में शादी की है। मेरे पति के परिवार को परेशान करना बंद कर दें। और आप अपनी राजनीति करें अपनी सोच बदलें और मुझे आजाद रहने दें।

बता दें साक्षी मिश्रा और अजितेश आज एक टीवी न्यूज चैनल पर भी नजर आए। कार्यक्रम में विधायक राजेश मिश्रा भी फोन लाइन पर मौजूद थे। यहां भी साक्षी ने अपने पिता पर वही आरोप लगाते हुए कहा कि उनके पिता ने कभी उसे अपने मन की नहीं करने दी। साक्षी का कहना है कि उसे अपने फैसले खुद लेने का अधिकार है।

उसने अपनी मर्जी से अजितेश से शादी की है और इसमें वह अपने पिता की दखलअंदाजी कतई बर्दाश्त नहीं करेगी। भले ही उसे इसके लिए अदालत की क्यों न जाना पड़े। साक्षी ने यह आरोप भी लगाया कि वह सुरक्षा की मांग को लेकर पुलिस के पास भी गई थी लेकिन पिता के दबाव की वजह से पुलिस ने उनकी मदद नहीं की।