BJP वर्कर के हम$ले के बाद रोते हुए शूट करने वाली मुस्लिम कैमरापर्सन ने कहा, मैं तुम लोगों से नहीं डरने वाली

केरल के सबरीमाला मंदिर में बुधवार सुबहे चार बजे दो महिला मंदिर के गर्भगृह तक पहुंच गईं और भगवान अयप्पा के दर्शन किए दोनों महिलाओं की उम्र करीब 40 साल बताई जा रही है| 1500 साल के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ कि 10-50 साल की किसी महिला ने मंदिर में प्रवेश किया है| दोनों महिलाओं को कड़ी सुरक्षा के बीच मंदिर में दर्शन के लिए ले जाया गया। बता दें कि सबरीमाला मंदिर में 10 से 50 साल की महिलाओं की एंट्री पर प्रतिबंध है। यह परंपरा करीब 1500 साल से बरकरार है|

सबरीमाला मंदिर में 40 साल से कम उम्र की दो महिलाओ द्वारा भगवान अयप्पा के दर्शन करने पर पूरे देश में हंगामा हो गया लेकिन सबसे ज्यादा हंगामा केरल में हुआ, जहां जगह-जगह पर विरोध प्रदर्शन हुए इन विरोध प्रदर्शनों को कवर करने के लिए जब मीडिया पहुंचा, तो मीडिया के लोगों पर भी हमला हुआ|

इसी हमले की शिकार हुईं कैराली टीवी की वीडियोग्राफर शाजिला अली फातिमा. कैराली टीवी की ओर से शाजिला अली फातिमा विरोध प्रदर्शन को अपने कैमरे में कवर करने के लिए तिरुअनंतपुरम में थीं| मंदिर में महिलाओं के घुसने को लेकर कुछ लोगों में गुस्सा था, तो कुछ महिलाएं इसे महिलाओं की जीत की तरह सेलिब्रेट कर रही थीं|

इसी दौरान हाथ में बीजेपी का झंडा लिए कम से कम 200 लोगों ने महिलाओं और उनका समर्थन कर रहे लोगों पर हमला कर दिया शाजिला अली फातिमा इस पूरे घटनाक्रम को अपने वीडियो कैमरे में शूट कर रही थीं|

डूल न्यूज़ में छपी खबर के मुताबिक शाजिला ने बताया कि वीडियो शूट के दौरान बीजेपी के लोगों ने शाजिला पर हमला कर दिया. हमलावरों ने शाजिला का कैमरा छीनने की कोशिश की उनके गले में चोट भी आई आंखों में आंसू आ गए, लेकिन शाजिला कैमरे को पकड़ी रहीं और उन्होंने शूटिंग जारी रखी. उनकी ये तस्वीर वेबसाइट्स के साथ ही सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो गई|

जिसमे शाजिला ने कहा मैं बीजेपी और उनके लोगों से नहीं डरती हूँ, मैं बीजेपी की ऐसी हरकतों को भविष्य में भी अपने कैमरे में कैद करती रहूंगी|

बता दे प्रदर्शनकारियों ने राज्य परिवहन की 79 बसों को नुकसान पहुंचाया और जब पुलिस ने उन्हें रोकने की कोशिश की तो उग्र भीड़ ने पुलिस पर ही धावा बोल दिया। प्रदर्शनकारियों के इस हमले में कई पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। बीजेपी के नेतृत्व में हो रहे इस प्रदर्शन में 55 वर्षीय चंदन उन्नीथन की मौ$त हो गई|

पुलिस मामले की जांच कर रही है। हिं$सा के आरोप में पुलिस ने दो लोगों को हिरासत में लिया है। बता दें कि पिछले साल सिंतबर महीने में सबरीमाला मंदिर में 10 से 50 साल की महिलाओं की एंट्री पर बैन को सुप्रीम कोर्ट ने खत्म कर दिया था|