अयोध्या फैसले का गुना ज़िले के मुस्लिम समाज ने किया स्वागत, बोले फैसला काबिलेतारीफ़

सालों से इंतजार कर रहे देश के ऐतिहासिक फैसले पर गुना जिले के मुस्लि’म समाज ने खुशी जाहिर की है. दोस्तों आपको बता दें कि जब हमने इस फैसले को लेकर मध्य प्रदेश के गुना ज़िले के शहर काजी नुरुल्लाह यूसुफजई एवं मुस्लि’म समाज के चहेते अध्यक्ष मो. शफ़ीक़ क़ुरैशी उर्फ काले भाई से बात की तो उन्होंने इस फैसले को एक ऐतिहासिक फैसला बताया है. उन्होंने कहा कि ये एक ऐसा फैसला है जिसमें कोई नहीं हारा.

हालांकि इस फैसले को लेकर अभी सोशल मीडिया में तर्क वितर्क चल रहे हैं. क्योंकि विवा’दित राम जन्मभूमि को रामलला का मंदिर बनाने के 2.77 एकड़ वाला स्थान दे दिया गया है. वहीँ मुस्लि’म पक्षकारों को भी संतुष्ट करने के लिए उन्होंने 5 एकड़ जमीन देने की बात कही है. इस फैसले में सभी की भावनाओं का ध्यान रखा गया है, जो कि वाकई में एक सराहनीय कदम है.

Guna Muslim Samaj Adhyaksh or Shahar Qazi

आपको बता दें कि गुना शहर काज़ी साहब ‘नूर उल्लाह यूसुफ जई’ के साथ मुस्लि’म समाज के अध्यक्ष मोहम्मद शफीक कुरैशी उर्फ काले भाई ने भी माननीय सुप्रीम कोर्ट के इस आदेश की सराहना की और उनके इस फैसले का स्वागत करते हुए गुना ज़िला समेत सभी देशभर के लोगों से इस फैसले का स्वागत करने और शांति व सद्भावना बनाए रखने की अपील की है.

सुरक्षा को देखते हुए गुना ज़िले में जिला प्रशासन ने पहले ही धारा 144 लागू कर दी थी. साथ ही सभी से शांति बनाये रखने की अपील भी की थी. खासतोर पर सोशल मीडिया पर जैसे कि फेसबुक, व्हात्सप्प, और ट्विट्टर पर भी खासी निगरानी की जा रही है. जिससे किसी को भी बुरा लगने वाली बात न हो पाय.