20 साल के इस छात्र की वजह से मश्किल में पड़ी राष्ट्रपति ट्रंप की कुर्सी, सत्ता आने से पहले…

यूक्रेन मुद्दे को लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप खासी परेशानी में घिरते हुए नज़र आ रहे हैं| विपक्षी डेमोक्रेट सांसदों ने उनके खिला’फ इस मामले में महाभियोग की प्रिक्रिया शुरू कर दी है| दरअसल आपको बता दें कि यह पूरा मामला यूर्केन के विशेष प्रतिनिधि कर्ट वोल्कर के अचानक इस्तीफा देने से खुला है| यह खबर वाशिंगटन या न्यूयॉर्क में एक हाई प्रोफाइल न्यूज रूम से नहीं आई बल्कि 20 साल के एक इंटर्न पत्रकार एंड्रयू हॉवर्ड Andrew Howard ने इस खबर को ब्रेक कर सभी को चौंका दिया है|

बता दें कि एंड्रयू हॉवर्ड एरिजोना स्टेट यूनिवर्सि’टी में द स्टेट प्रेस नामक स्टूडेंट जर्नल के संपादक हैं| उन्होंने शुक्रवार देर रात यूक्रेन से जुड़ी ये खबर ब्रेक की थी कि कांग्रेस ने कर्ट वोल्कर को ट्रंप के खिला’फ महाभियो’ग की जांच के सिलसिले में सवालों के जवाब देने का आदेश दिया था, जिसके बाद कर्ट वोल्कर ने राज्य विभाग में अपने पद से इस्तीफा दे दिया|

एंड्रयू हॉवर्ड ने द न्यूयॉर्क टाइम्स से बात करते हुए शनिवार को बताया कि मैंने यह स्टोरी अपनी किसी भी दूसरी स्टोरी की तुलना में अलग तरीके से नहीं की| साथ ही उन्होंने कहा कि हर कोई जिंदगी में एक महा अवसर की तलाश में रहता है, हालांकि मुझे नहीं लगता है कि मैं इसलिए वहां गया था|

हॉवर्ड ने कहा कि वो एक बड़ी खबर के लिए एक स्थानीय एंगल की तलाश में थे और वोल्कर यूनिवर्सिटी द्वारा संचालित राष्ट्रीय सुरक्षा संस्थान के निदेशक थे| यूनिवर्सिटी के एक बड़े अधिकारी ने हॉवर्ड को वोल्कर के बारे में बताया कि इस राजनयिक ने अपने सरकारी पद से इस्तीफा दे दिया है|

हॉवर्ड ने कहा कि मुझे नहीं लगता कि हमने कभी इतनी बड़ी खबर करने की उम्मीद की थी, जिसे कि हमने किया| बता दें कि खबर ब्रेक करते समय हॉवर्ड अपनी दूसरी नौकरी पर थे| वो द एरिजोना रिपब्लिक अखबार में इंटर्न थे, इंटर्नशिप के दौरान ही उन्होंने इस बड़ी खबर को ब्रेक किया था| इस ब्रेकिंग पर दर्जनों जाने माने अमेरिकी मीडिया संस्थानों ने स्टोरी की थी|

इसी के चलते एक व्हिसलब्लोअर ने ट्रंप पर आरोप लगाया गया था कि उन्होंने यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोडिमिर जेलेंस्की पर दबाव डाला कि वे पूर्व अमेरिकी उपराष्ट्रपति जो बाइडेन पर पर झूठे और गंदे आरोप लगाएं| आपको बता दें कि बाइडेन 2020 के राष्ट्रपति चुनाव में ट्रंप के खिला’फ मजबूत डेमोक्रेट प्रतिनिधि के तौर पर उभरे हैं|

जानकारी के लिए बता दें कि वोल्कर पर कथित आरोप है कि उन्होंने यूक्रेन के वरिष्ठ अधिकारियों से मुलाका’त की, ताकि ट्रंप के इरादों को वहां के राष्ट्रप’ति जेलेंस्की के द्वारा अंजाम दिया जाए| डेमोक्रेटिक्स की अगुआई वाली प्रतिनिधि सभा की समितियों ने सवालों के जवाब देने के लिए वोल्कर को अगले गुरुवार को पेश होने का आदेश दिया है|

साभारः #News18InHindi