VIDEO: अजमेर दरगाह के इस खादिम ने दिया ऐसा बयान की वीडियो हुआ वायरल

अजमेर की दरगह सूफी संत ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती के खादिम और वहां के खादिमों की संस्था अंजुमन के पूर्व सचिव सैयद सरवर चिश्ती ने एक बयान दिया है जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है इस वीडियो को कुछ पाकिस्तानी यूजर्स द्वारा भी वायरल किया जा रहे हैं। सैय्यद सरवर चिस्ती ने अपने बनाये गए 12 मिनिट के इस वीडियो में प्रधानमंत्री मोदी आरएसएस बजरंगदल और विश्व हिन्दू परिषद के खिला’फ बोलते हुए सारे मुसलमा’नों को एक होने की अपील की है।

खादिम सैयद सरवर चिश्ती ने अपने बयान में तीन तलाक कुर्बानी त्रिशूल वितरण आदि मुद्दों के साथ साथ साध्वी प्रज्ञा और नाथूराम गोडसे के बारे में बोलते हुए कहा है कि हिन्दुस्तान में मुसलमा’नों पर अत्याचा’र हो रहा है, यह कैसा हिन्दुस्तान बना दिया, यह मुसलमा’नों के लिए कैसी यौमे आजादी आई है?

Image Source: Google

सरवर ने अपने बयान में पहलू खान मॉब लिंचिं’ग का भी ज़िक्र किया उन्होंने पहलू खान मामले में सभी छह आरोपियों को बरी किए जाने पर सवाल उठाते हुए कहा है कि पहलू खान को उन लोगों ने नहीं मा’रा तो क्या भू’त प्रे’तों ने मा’रा है इसी के साथ उन्होंने यह भी कहा कि यह राजस्थान पुलिस की लचर कार्रवाई के कारण ऐसा हुआ है।

इन सब के साथ साथ सैयद सरवर चिश्ती ने कई और मुद्दों पर बात की भाजपा नेताओं पर भड़कते हुए मुसलमा’नों से जागो जागो की अपील कि हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने नारा दिया था सबका साथ-सबका विकास लेकिन मुसलामा।नों का विकास कहाँ है। उनका तो विना’श हो रहा है।

सैयद सरवर चिश्ती ने कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के मामले में भी बोलते हुए कहा है कि कश्मीर हमारे देश का हिस्सा है लेकिन कश्मीरी भी भारत के ही नागरिक हैं, फिर भी आज वहां के बच्चे दूध के लिए तरस रहे हैं। इसी के साथ उन्होंने यह भी आरोप लगाते हुए कहा कि, में अंजुमन सचिव रहते हुए पालरा में स्कूल खोलना चाहते थे लेकिन आरएसएस बजरंग दल और विहिप के लोगों ने मंदिर की जमीन बताते हुए स्कूल नहीं खोलने दिया।

 

इस वीडियो को लेकर जब खादिम सैयद सरवर चिश्ती से पुछा गया तो उन्होंने कहा कि, यह मेरी ओर से ही जारी किया गया बयान है और इसमें मैंने कुछ भी गलत नहीं कहा मुसलमा’नों से जागने की अपील करने का मतलब है कि वे पढ़ाई लिखाई करें और सामाजिक व राजनीतिक क्षेत्र में आगे आएं।