महाराष्ट्र में शिवसेना के साथ मिलकर सरकार बनाने को लेकर संजय निरुपम ने कांग्रेस और एनसीपी को किया...

महाराष्ट्र में शिवसेना के साथ मिलकर सरकार बनाने को लेकर संजय निरुपम ने कांग्रेस और एनसीपी को किया…

नई दिल्ली: महाराष्ट्र के राज्यपाल बी.एस. कोश्यारी ने रविवार शाम शिवसेना को सरकार बनाने का न्योता दिया है। इसके बाद से सियासी घमासान तेज हो गया है। जहां शिवसेना नेता आज एनसीपी प्रमुख शरद पवार से मुलाकात करेंगे। वहीं कांग्रेस ने कांग्रेस कार्य समिति की बैठक और एनसीपी ने कोर ग्रुप मीटिंग शुरू हो गई है। हलाकि दोनों ही पार्टियों ने अभी तक यह साफ नहीं किया है कि वे शिवसेना को सरकार बनाने के लिए समर्थन देंगे या नहीं। फ़िलहाल अभी बैठकों को दौर जारी है।

वही केंद्र की मोदी सरकार में शामिल शिवसेना के इकलौते मंत्री अरविंद सावंत ने इस्तीफे का ऐलान कर दिया है. सावंत ने ट्विटर पर इस्तीफे के फैसले की जानकारी देते हुए कहा कि शिवसेना का पक्ष सच्चा है. झूठे माहौल के साथ नहीं रह सकता है. यह फैसला ऐसे में उन्होंने किया है जब महाराष्ट्र में शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी की सरकार बनाने की खबरें तेज हैं।

आपको बता दें मोदी कैविनेट में शामिल इकलौते मंत्री अरविंद सावंत के इस्तीफे के ऐलान के साथ ही तय हो गया है कि शिवसेना एनडीए से बाहर हो गई है. शिवसेना और बीजेपी की दोस्ती 30 साल पुरानी थी. महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर कांग्रेस और एनसीपी ने भी सोमवार को बैठक बुलाई है. इस बैठक के बाद ही यह तय हो पाएगा कि क्या कांग्रेस और एनसीपी शिवसेना को अपना समर्थन देगी या नहीं।

वही एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने कहा है कि जो भी निर्णय होगा कांग्रेस से मिलकर ही होगा। एनसीपी नेता नवाब मलिक ने कहा है कि सरकार देना हमारी जिम्मेदार है। कांग्रेस-एनसीपी की बैठक के बाद फैसला होगा। उन्होंने कहा कि हमारा कॉमन मिनिमन कार्यक्रम है अगर सहमति बनती है तो शिवसेना को समर्थन दे सकते है। वहीं कांग्रेस ने भी सीडब्ल्यूसी की बैठक बुलाई है।

Leave a comment