हि’न्दू-मुस्लि’म ने मिलकर लिया ऐसा फैसला की पूरी दुनिया में पेश कर रहे हैं मानवता की मिसाल

सियासत भले ही हिं’दू मुस्लि’म में लड़ा’ई करवाए जा रही है, गा’य के नाम पर हिं$सा फैलाए जा रही है लेकिन आज के दौर में भी ऐसे कुछ लोग अब भी मौजूद हैं जिन्होंने मानवता की सांप्र’दायि’क भावना से उठ कर देश के लिए कुछ करने और एकता के साथ चलने की मिसाल पेश की है| हम बात कर रहे हैं मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल से लगभग 260 किमी दूर स्थित खंडवा जिले की जहां हिं’दू मुस्लि’मों ने एक साथ मिलकर गा’य का अस्पता’ल बनाने का निर्णय लिया है| बता दें कि इस अस्पताल को बनाने में दोनों ही सं’प्रदा’यों के लोग एक साथ मिलकर काम करेंगे|

साथ ही आपको बता दें कि वहाँ के लोगों ने मिलकर इस अस्पताल को बनाने की पूरी तैयारी कर ली है| आ’धुनि’क सुविधाओं से सुसज्जि’त यह अस्पताल कैसा होगा, इसका मॉडल भी तैयार हो चुका है और वहाँ के दोनों सां’प्रदायि’क के लोग इस पर एक साथ मिल कर काम कर रहे हैं|

आपको बता दें कि खंडवा में सद्भा’व की ऐसी लहर चल रही है, जिसकी खुश’बू दूर दूर तक जाना निश्चित है| यहां अ’ध्या’त्म गो’से’वा मिशन ट्रस्ट ने मुख्यालय से तक़रीबन 20 किमी दूर सिरसोद गांव में गा’यों के लिए सर्व सु’विधायु’क्त अस्पताल बनाने का निर्ण’य लिया है| यह अस्पताल 14 एक’ड़ क्षेत्र में होगा|

इस अस्पताल की कल्प’ना करने वाले कथावा’चक पंक’ज शा’स्त्री कहते हैं कि सनात’न ध’र्म में सबसे बड़ी सेवा गौ’से’वा है, हम भगवा’न कृष्ण को पूजते हैं और भगवान कृष्ण गौ की सेवा करते हैं|

साथ ही उन्होंने कहा कि इसके चलते मेरे मन में अस्पताल बनाने का ख्या’ल आया, जहां राज्य के विभिन्न स्थानों से आने वाली गा’यों का इलाज हो सके| प्रस्तावि’त अस्पताल का मॉडल भी तैयार हो चुका है| बता दें कि अस्पताल में गौ और गोपा’ल मंदिर, विशाल गौशाला व अत्याधुनि’क उपकरण और गौ एम्बुलें’स भी मौजूद रहेंगी|

इसी के साथ इस परिसर में अस्पताल के डॉक्ट’रों, कर्मचारियों के निवास के अलावा गौ’च’र, भूसा गोदाम आदि भी बनाया जाएगा| इस परिसर में गा’यों के शेड होंगे और बछ’ड़ों के लिए पृ’थक से निवास बनाया जाएगा| नंदी घाय’ल व बीमार गा’यों के लिए अलग से इंतज़ा’म किया जाएगा|

साभारः #NewsTrack