अब त्रिपुरा में मॉब लिंचिं’ग, जानवर के नाम पर युवक की पीट-पीटकर ह$त्या

त्रिपुरा में एक बार फिर जानवर के नाम पर एक शख्स की कथित तौर पर पी’ट-पी’टकर ह$त्या किए जाने का मामला सामने आया है। घट’ना मंगलवार 2 जुलाई की है जब भीड़ ने प्रदेश के धलाई जिले में भारत-बांग्लादेश सीमा पर एक दूरदराज के आदिवासी गांव में एक मवेशी चोर की पी’ट-पी’टकर कर ह$त्या कर दी। मृतक की पहचान बुद्धिराम त्रिपुरा 38 के रूप में हुई है। ग्रामीणों ने एक व्यक्ति को देखा जो कथित तौर पर एक घर से मवेशी चुराने की कोशिश कर रहा था। उन्होंने उसे पकड़ लिया और जमकर पीटा। इस दौरान पुलिस घटनास्थल पर पहुंची तो काफी देर हो चुकी है।

रायसियाबारी पुलिस थाने के प्रभारी सुलेमान रियांग ने कहा, गांव वाले लोगों ने एक व्यक्ति को एक घर से मवेशी चुराने की कोशिश करते हुए देखा। उन्होंने संदि’ग्ध मवे’शी चो’र को पकड़ा और उसे बु’री तरह मा’रा। हम घटनास्थल पर पहुंचे और व्यक्ति को वहां से निकाला लेकिन अस्पताल में उसकी मौ$त हो गई। मृतक त्रिपुरा मान्यकुमारपारा गांव के रहने वाला हैं।

पुलिस ने बताया कि पोस्टमार्टम के बाद मृ’तक का श#व उनके परिजनों को दे दिया गया है। आपको बता दें कि भी’ड़ द्वारा किसी व्यक्ति की पी’ट-पी’टकर ह$त्या किए जाने का यह पहला मामला नहीं है। इससे पहले पश्चिम बंगाल के मालदा जिले के एक गांव में स्थानीय लोगों ने 24 वर्षीय सनाउल स्के की पी’ट-पी’टकर ह$त्या कर दी थी।

बीते रोज बिहार के वैशाली जिले में एक घर में चो’री के आरोप में शख्स को भी’ड़ ने पी’ट-पी’टकर मा’र डाला था पुलिस ने घट’नास्थल से धारदार हथियार को बरामद किया था घट’ना के संबंध में स्टेशन हाउस ऑफिसर SHO घर्मजीत मेहतो ने बताया था, शख्स के श’व को कस्टडी में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है हमने एक अज्ञात शख्स पर केस भी दर्ज किया है, जिसका संबंध इस घट’ना से है।

त्रिपुरा मामले में फ़िलहाल पुलिस ने इसके आगे की किसी भी तरह की जानकारी देने से इनकार कर दिया है पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।