ट्रक में गाय देखते ही पागल हो गई थी भीड़ मुझे पीट पीट कर, मुस्लिम युवक ने सुनाई आपबीती

पिछले कुछ सालों में कथित गो$तस्कारी के आरोपों के चलते भीड़ द्वारा हिं$सा के कई मामले सामने आए. बेकाबू भीड़ ने कई लोगों को पीट पीट कर मौ$त घाट भी उतर दिया. पिछले दिनों राजस्थान के अलवर जिले में हुई पहलु खान मोब लिंचिंग को लेकर मीडिया में काफी चर्चा हुई थी. अब एक बार फिर से अलवर में एक युवक गुस्साई भीड़ का शिकार बनने में बाल-बाल बच गया. सगीर खान नाम के एक युवक ने अपने साथ हुई घटना के बारे में बताया जो काफी हैरान कर देने वाली घटना हैं.

सगीर खान ने बताया कि वह अपने एक दोस्त मुश्ताक के साथ कुछ गायों को एक वाहन में लेकर जयपुर-अलवर हाईवे से जा रहे थे. इसी दौरान कुछ लोगों ने उनकी गाड़ी में गायों को देखकर भीड़ इकठ्ठा कर ली. जिसके बाद मौके पर बड़ी संख्या में लोगों की भीड़ जमा हो गई.

COW cow stor

इसके बाद गुस्साई भीड़ ने सगीर खान के साथ मारपीट शुरू कर दी और उनके वाहन के साथ भी तोड़ फोड़ की गई. बता दें कि उसे भीड़ के हमले के बाद घायल अवस्था में हॉस्पिटल लाया गया था वह अभी जयपुर के एक हॉस्पिटल में भर्ती हैं.

टाइम्स ऑफ इंडिया की एक खबर के मुताबिक सगीर ने बताया कि वह एक लॉरी ड्राइवर है और उसे मुश्ताक ने गायों को जयपुर ले जाने के लिए बोला था. हम रविवार को सुबह 3.30 बजे अलवर के बघेरी खुर्द गांव की सीमा के करीब थे. इसी दौरान मुश्ताक की कार सवार तीन युवकों से बहस हो गई.

इसी दौरान एक युवक ने गाड़ी में गाय देख ली और शोर करना शुरू कर दिया. एक अन्य युवक गांव से लोगों को बुला कर लाया. सगीर ने बताया कि पिकअप में गाय देखकर लोगों की भीड़ पागल हो गई और उन्होंने वाहन में तोड़ फोड़ शुरू कर दी. इसी बीच मुश्ताक मौके से फरार हो गया.

अलवर के मिर्जापुर गांव निवासी सगीर के 11 भाई-बहन हैं और उसका कहना है कि वह किसी भी अवैध गतिविधि में शामिल नहीं रहे हैं. वहीं दूसरी तरफ पुलिस का कहना है कि उसने पूछताछ में स्वीकार किया है कि वह गायों को गो$ह$त्या के लिए हरियाणा लेकर जा रहा हैं. मामले में फ़िलहाल पुलिस जांच कर रही हैं.

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *