तुर्की सरकार का बड़ा कदम, फिलिस्तीन में बिगड़ते हालात देख तुर्की ने बिजवाया भारी मात्रा में इफ्तार का सामान

तुर्की ने एक बार फिर से इंसानियत की मिसाल पेश की है. रमजान के पाक महीने को देखते हुए तुर्की के एक समाजसेवी संगठन तुर्की सहायता संगठन ने इस पाक माह में गाजा पट्टी, यमन और बांग्लादेशी शरणार्थी शिविरों में हजारों जरूरतमंदों को सहायता करने का ऐलान किया है. इन्होने रमजान शुरू होने के साथ ही अपना काम भी शुरू कर दिया है.

तुर्की सहायता संगठन रोहिंग्या मुसलमानों की मेजबानी के लिए फास्ट-ब्रेकिंग भोजन (इफ्तार) वितरित कर रहे हैं. इसके आलावा गाजा पट्टी में भी गरीब और पीड़ित मुस्लिमों की सहायता के लिए संगठन ने अपने हाथ आगे बढाए हैं.

Image Source: Google

तुर्की मीडिया के अनुसार गाजा पट्टी में फिलिस्तीनी तुर्की की सहयोग और समन्वय एजेंसी (TIKA) ने मंगलवार को जारी एक बयान में बताया कि वह प्रतिदिन गाजा पट्टी में रहने वाले करीब 1,000 लोगों को इफ्तार भोजन प्रदान करेगी.

इसके लिए रमजान के पहले ही दिन TIKA ने हजारी अल-दिक के गांव में दक्षिण-पूर्वी गाजा में कैंप लगाकर लगभग 1,000 जरूरतमंद परिवारों को गर्मागर्म भोजन परोसा. यह पहला मौका नहीं है जब टिका मुस्लिमों की मदद के लिए आगे आया हो वह अक्सर ही कई मौकों पर मदद के हाथ बढ़ा चुके है.

Image Source: Google

इससे पहले पिछले साल भी रमजान के दौरान TIKA ने एक ही क्षेत्र में 1,000 गरीब फिलिस्तीनी परिवारों को खाद्य पैकेज वितरित किए थे. बता दे कि 1992 में स्थापित तुर्की की सरकार द्वारा संचालित यह सहायता एजेंसी देश की विकासात्मक सहयोग नीतियों को विदेशों में लागू करने के लिए जिम्मेदार है.

गाजा को खाद्य सहायता ऐसे समय में दी जा रही है जब गाजा पट्टी और इजराय’ल सरकार के बीच तनाव जारी हैं. इस हफ्ते के अंत में ही गाजा पट्टी पर इज़रा’इली हवाई हम’ले के चलते दो गर्भवती महिलाओं और दो शिशुओं सहित कम से कम 25 फिलिस्तीनियों की जान चली गई जबकि इस हमले में 100 से अधिक लोग घायल हो गए.