उन्नाव कां’ड में आया नया मोड़, एम्स में भर्ती पीड़ि’ता ने पहली बार दिया बयान, पुलिस औऱ सीबीआई में मची अफरा-तफरी

उन्नाव कां’ड की पीड़ि’ता का एक अहम बयान सामने आय है पीड़ि’ता के बयान से मामले में नया मोड़ दे दिया है नई दिल्ली में स्थित एम्स में इलाज के चलते होश में आकर खुद दु’ष्क’र्म पीड़ि’ता ने अपने एक रिश्तेदार को बताया कि ट्रक ने खुद जान बूझ कर उनकी कार को टक्कर मा’र कर उनकी ह#त्या करने का प्रयास किया था पीड़ि’ता ने उनको यह भी बताया कि ऐसा नहीं है कि कार चला रहे मेरे बकील ने बचने की कोशिश नहीं की बल्कि हमने तो कार रिवर्स लेकर ट्रक से बचने कि पूरी कोशिश की लेकिन फिर भी ट्रक ड्राइवर ने हमारी तरफ आकर कार को ट्रक से कुच’ल डाला।

हलाकि इस घट’ना के बाद से वकील की हालत बहुत गंभी’र बानी हुई है। और उसका इलाज भी एम्स में चल रहा है. पीड़ि’ता के रिस्तेदार ने कहा कि में हमेशा से ही पीड़ि’ता और उसके परिवार के साथ मजबूती से खड़ा हूँ शायद इसी वजह से उसे मुझ पर इतना विश्वास है उसने ही न्यूज एजेंसी को यह जानकारी दी है यह वही रिश्तेदार है जिसकी माँ भी इस हाद’से का शिका’र हुई थी।

उन्होंने बताया कि मेने उस दिन उनसे पुछा कि उस दिन क्या हुआ था? तो उसने बताया की हमने ट्रक को सामने से आते देखा और हम डर गए क्यूंकि ट्रक जिस तरह से हमारे पास आ रहा था उससे ऐसा लग रहा था जैसे वह सिर्फ हमको ही कुचलने के लिए आ रहा हो हमने सावधान करने के लिए हॉर्न भी बजाय लेकिन ट्रक पर कुछ असर नहीं हुआ फिर हमने अपनी कार को रिवर्स कर के बचने की कोशिश की परन्तु ट्रक ने सीधा आकर टक्क’र मार दी।

हलाकि दु’ष्क’र्म पीड़ि’ता की हालत अभी बहुत नाजुक बताई जा रही है और वह अभी बार बार बेहो’श हो जाती है। थोड़ी देर के लिए होश में आयी तो उन्होंने इस घट’ना के बारे में अपने रिश्तेदार को बताया हालांकि इस मामले में जांच कर रही सीबीआई को इसकी जानकारी नहीं दी गयी है क्यूंकि रिश्तेदार ने बताया की उसने मुझे अकेले में यह बात बताई है।

उन्नाव छोड़ने से लेकर इस हादसे तक लगातार में उसके साथ ही रहा हूँ शायद इसी वजह से उसका विश्वास मुझपर अधिक हो गया है उसने मुझे सीबीआई अधिकारियों से मिलने से भी मना कर दिया जो एम्स आये थे। रिश्तेदार ने बताया कि पीड़ि’ता ने मुझसे कहा की यूपी सरकार से विश्वास ख़त्म होने के बाद अब सीबीआई पर से भी उसका भरोसा उठ गया है।

ऐसा इसलिए हुआ क्यूंकि उसने कई बार सीबीआई को अपने जा’न के खत’रे को ले कर आगाह किया था लेकिन उसकी सुरक्षा के लिए कोई भी ठोस कदम नहीं उठाया गया हलाकि उन्नाव मामले में सीबीआई ने सुप्रीम कोर्ट में अपनी स्टेटस रिपोर्ट सौंप दी है और आगे की जांच के लिए थोड़ा समय माँगा है।

वही सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को सुनवाई के दौरान सीबीआई को इस मामले में जांच करने के लिए दो हफ्तों की मोहलत दी है और साथ ही साथ योगी सरकार को हादसे में घाय’ल पीड़ि’ता के वकील को 5 लाख रूपए मेडिकल खर्च के रूप में देने का निर्देश दिया है।