मशहूर हिन्दू लेखक अनीता ने बच्चों को दी कुरान की तालीम, कहा- इस्लाम एक सच्चा और सबसे अच्छा धर्म है, कुरआन में…

दुनिया भर में आज इस्लाम तेजी के साथ फ़ैल रहा है. दुनिया के सबसे बड़े मजहबों में से एक इस्लाम से लगातार लोग जुड़ रहे है और इस्लाम का महत्व दुनिया को बता रहे है. इसी बीच भारत की एक मशहूर लेखक और उपन्यासकार अनीता नायर ने इस्लाम को लेकर एक बड़ा बयान दिया है जो इन दिनों चर्चा में है.

लेखिका अनीता ने इस्लाम को लेकर कहा कि इस्लाम एक सच्चा और अच्छा धर्म है. यही वजह है कि वह खुद भी अपने बच्चों को कुरान की तालीम दिला रही है और उन्हें इस्लाम का महत्व बता रही है. उन्होंने अपने बच्चों को कुरान की तालीम दी है.

Image Source: Google

तर्जुमा करके और उन्होंने यह साफ़ किया है कि आज के समय में दुनिया भर में इस्लाम को लेकर कई तरह की गलत चीजें फैलाई जा रही हैं. इस्लाम के खिलाफ फैलाई जा रही यह सब बातें पूरी तरह से झूठ हैं और एक साजिश का हिस्सा हैं.

बता दें कि एपीजे कोलकाता लिटरेरी फेस्ट के दौरान बोलते हुए अनीता नायर ने यह बात कही है. वह कार्यक्रम के बाद मीडिया से बातचीत कर रही थी और इसी दौरान उन्होंने इस्लाम को लेकर अपनी राय रखी.

Image Source: Google

आपको बता दे कि अनीता नायर की किताब मौजज़ा और बेबी जान स्टोरीज़ फ्रॉम क़ुरान करीम हाल ही में दुनिया भर में लांच हुई है और इसे सभी तरफ से अच्छी प्रतिक्रिया मिल रही है. वहीं इस दौरान उन्होंने यह भी कहा है कि इस्लाम को बदनाम करने के लिए नैरेटिव खड़ा किया जा रहा है इसका पर्दाफाश करना जरुरी है.

Image Source: Google

उन्होंने कहा कि आज कई लोगों ने इस्लाम को लेकर अपने दिमाग में गलत सोच बना ली है और ऐसी सोच को निकालने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि हमें लोगों को यह बताना होगा कि इस्लाम भी एक मजहब है. मुस्लिम लेखक इस दिशा में काम कर रहे है लेकिन वह यह सोचकर रुक जाते है कि उनके काम को इस्लाम का प्रचार समझा जाएगा.

उन्होंने कहा कि लेकिन अगर मैं एक हिन्दू होने के नाते ऐसा बात करूंगी और लिंखुगी तो मुझे ऐसा नहीं कहा जायेगा. उन्होंने यह भी इच्छा जताई कि वह इस मज़हब के बारे में दुनिया भर को बताना चाहती हैं कि इस्लाम को आ’ तंक वाद से जोड़ना पूरी तरह से गलत है.