उत्तर प्रदेश में भाजपा के मंसूबो पर फिर सकता हैं पानी, UP के एग्ज़िट पोल ने बदला समीकरण

लोकसभा चुनाव 2019 देश के सबसे बड़े सियासी रण के नतीजे सात चरणों के चुनाव के बाद ईवीएम में कैद हो चुके हैं आज सातवें और आखिरी चरण का मतदान रविवार की शाम समाप्त हो गया। मतदान समाप्त होने के साथ ही सभी न्यूज चैनलों और एजेंसियों के एग्जिट पोल्स के अनुमान सामने आने शुरू हो गए हैं। यूपी में बीजेपी को भारी नुकसान का अनुमान बताया जा रहा है।

एबीपी न्यूज़ के एग्जिट पोल के मुताबिक, महागठबंधन को करीब 40 सीटों का फायदा हो सकता है। यानी यूपी में बीजेपी को करीब 22 सीटें मिल सकती हैं. कांग्रेस की झोली में 02 सीटें जा सकती हैं. वही महागठबंधन के खाते में 56 सीटें जाने का अनुमान है। टीवी चैनलों ने जो आंकड़े जारी किए हैं, उसके मुताबिक बसपा-सपा महागठबंधन बीजेपी की सीटों में सेंधमारी करती दिख रही है।

हलाकि उत्तर प्रदेश में लोकसभा चुनाव के फाइनल नतीजे कैसे आएंगे इस पर पूरे देश की नजरें टिकी हैं। हालांकि, एग्जिट पोल से एक इशारा मिल गया है और एग्जिट पोल में उम्मीद की जा रही है कि इस बार यूपी में बसपा-सपा गठबंधन ने बीजेपी को कड़ी टक्कर दी है।

उत्तर प्रदेश में सबसे ज्यादा लोकसभा सीटें हैं और किसी भी पार्टी के लिए सरकार बनाने में यह निर्णायक साबित होती हैं। यही वजह है कि राजनीति में अक्सर कहा जाता है कि केंद्र की सत्ता का रास्ता यूपी से ही होकर गुजरता है।

एग्जिट पोल के रुझानों में एनडीए को पूर्ण बहुमत मिलता दिखाया जा रहा है। वहीं यूपीए को 150 से कम सीटों पर सिमटता दिखाया जा रहा है। Exit Polls के रुझान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्‍यक्ष अमित शाह के दावों को सही साबित करते नजर आ रहे हैं।