VIDEO: मासूम बच्चा चिल्ला’ता रहा, मेरे चाचा को छो’ड़ दो, यूपी पुलिस ने बाइक के कागज न मिलने पर युवक को बु’री तरह पी’टा

हमेशा सुर्खियों में रहने वाला योगी आदित्यनाथ का यूपी एक बार फिर सुर्ख़ियों में हैं| बेरह’म और कुरूर’ता के लिए पहचाने जाने वाली यूपी पुलिस का शर्मना’क चेह’रा एक बार फिर सामने आया है| उत्तर प्रदेश के सिद्धा’र्थनगर जिले की पुलिस का शर्मना’क हरकत और कुरोरता से भरे चेहरे का एक वीडियो सोशल साइ’ट्स पर तेजी से वायरल हो रहा है, वीडियो में दो पुलिसकर्मी एक मासू’म बच्चे के सामने एक युवक को सड़क पर गिराकर बेरह’मी से पी’टते हुए दिखाई दे रहें है। बता दें कि वीडियो वायरल होने और लोगों की आलोचना’ओं के बाद दोनों पुलिसकर्मियों को पुलिस फाॅर्स से ससपें’ड कर दिया गया है।

लोगों से मिली जानकारी के मुताबिक़ पीड़ि’त शख्स और पुलिसकर्मियों के बीच कथित तौर पर ट्रैफिक नियमों के उल्लंघ’न को लेकर बह’स हुई थी जिसके चलते पुलिस ने युवक को ज़मीन पर गि’रा कर बहुत बु’री तरह से मा’रा है| वीडियो में साफ़ दिख रहा है कि जिस समय पुलिसकर्मी युवक को पट’क पट’क कर मा’र रहे थे उस समय उसके साथ एक छोटा बच्चा भी था जो घबरा’हट के मारे इधर उधर भाग रहा था।

आपको बता दें कि पुलिसकर्मियों ने युवक पर बु’री तरह ला’त घूं’से ही नहीं बरसाए बल्कि दरोगा तो उसके ऊपर चढ़कर भी बैठ गए| पुलिस के डर से इस दौरान आसपास लगे मजमे में से कोई भी बीच बचाव की हिम्मत नहीं जुटा पा रहा था लेकिन इस पूरी घट’ना का वीडियो किसी राहगीर नाम के युवक ने बना लिया, जो अब सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।

यह वीडियो सामने आने के बाद लोगों ने दोनों पुलिसकर्मि’यों के खिला’फ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की मांग की। लोगों ने कहा कि इन दोनों को तुरं’त गिरफ्ता’र किया जाना चाहिए। जिसके बाद दोनों पुलिसकर्मि’यों के खिला’फ कार्रवाई की गई और दोनों को निलंबि’त करते हुए लाइन हाजिर कर दिया गया है। जिन दो पुलि’सकर्मि’यों को निलंबि’त किया गया है उनके नाम इंस्पेक्टर वीरेंद्र मिश्रा और हेड कांस्टेबल महेंद्र प्रसाद है।

इसके बाद सिद्धार्थनगर की पुलिस ने ट्वीट कर लिखा कि उक्त प्रकरण में SI श्री वीरेन्द्र मिश्रा प्रभारी चौकी सकारपार व HCP महेन्द्र प्रसाद द्वारा अभद्र व्यवहार किये जाने पर SP SDR द्वारा जांचोपरांत SI वीरेन्द्र मिश्र प्रभारी चौकी सकारपार व HCP महेन्द्र प्रसाद को तत्का’लिक प्रभाव से निलम्बित कर लाईन हाजिर कर दिया गया है।

जानकारी के लिए बता दें कि हिन्दुस्तान कॉम की रिपोर्ट के मुताबिक मंगलवार अपराह्न खेसरहा थाना क्षेत्र के कुड़’जा गांव निवासी युवक रिंकू पांडेय पुत्र योगेंद्र पांडेय सकारपार अपने आठ वर्षीय भतीजे को बाइक से बिठाकर इला’ज कराने के लिए आया था।

जिसके बाद लौटते समय उसकी बाइक रोक कर सकारपा’र चौकी प्रभारी वीरेंद्र मिश्र व हेड कांस्टेबल महेंद्र प्रसाद ने कागज मांगा तो उसने कहा कि वह पास के गांव में रहता है, लाकर दिखा देगा। इतना सुनते ही चौकी प्रभारी व हे’डकांस्टे’बल ने आपा खो दिया और ‘रिंकू को सड़क पर पट’क पट’क कर मा’रने लगे|

साभारः #JantaKaReporter