मुस्लि’म कलेक्टर का बड़ा आरोप BJP नेताओं ने CAA के समर्थन में उनकी तस्वीरों का दुरुपयोग किया, अब पुलिस कार्रवाई…

नई दिल्ली: पिछले कई हफ्तों से देशभर की सड़कों पर सैकड़ो की तादाद में उतरे लोग नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ लगातार विरोध प्रदर्शन कर रहे है। नागरिकता कानून के खिलाफ दिल्ली में भी लगातार विरोध प्रदर्शन हो रहा है। तो वहीं इस कानून को लेकर बीजेपी डोर टू डोर कैंपेन चला रहा है। ताकि लोग इस कानून को समझ सके। लेकिन इस कैंपेन के दौरान केरल के वायनाड में वि’वाद हो गया है।

दरअसल, वायनाड की डीएम अदीला अब्दुल्ला ने गुरूवार को आरोप लगाया कि उन्हे सोशल मीडिया पर साइबर ह’मले का सामना करना पड़ा। बीजेपी इस कानून को लेकर डोर टू डोर कैंपेन कर रही है इसी कड़ी में बीजेपी के नेता और कार्यकर्ता डीएम अदीला के ऑफिस पहुंचे थे। जहां पहुंचकर उन लोगों ने एक पैम्पलेट दिया था।

इसी दौरान पैम्पलेट लेते हुए किसी ने इनकी फोटो ले ली और उसे सोशल मीडिया पर शेयर कर दिया। जो बाद में वायरल हो गया। अदीला अब्दुला का आरोप है कि उनकी तस्वीरों को सोशल मीडिया पर दुरूपयोग किया जा रहा है और वह साइबर ह’मले का सामना कर रही है। अब्दुला ने कहा कि हम कार्यालय में आने वाले लोगों से पर्चे प्राप्त करने के लिए जिम्मेदार है।

लेकिन किसी ने इस तस्वीर को सोशल मीडिया पर शेयर कर दिया है। मैं पुलिसिया कार्रवाई करूंगी। अदीला अब्दुल्ला ने कहा कि इस घ’टना के बाद से मुझे साइबर अटैक का सामना करना पड़ रहा है। इसमें जो भी है वो सभी सीमाओं को लांघ दिया है। उन्होंने कहा कि एक जिलाधिकारी होने के नाते कार्यालय आने वाले लोगों से पैम्फलेट व ज्ञापन लेना मेरा फर्ज है।

खासतौर पर तब जब आप किसी राजनीतिक दल के प्रतिनिधि हो। उन्होंने आगे कहा कि जो भी इस काम के पीछे है मैं उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई करूंगी।बता दें कि नागरिकता संशोधन कानून को लेकर बीजेपी घर-घर जाकर लोगों को इस कानून की सच्चाई से अवगत करने का काम कर रहा है।