जब मसाला हिन्दू मुसलमा’न वाला अच्छा लगने लगे तो कौमें ‘प्याज’ की चिंता नहीं करतीं, CAB विवाद के बीच बॉक्सर विजेंदर सिंह का ट्वीट- वायरल

देश भर में लगातार बढ़ रही महंगाई, आर्थिक मंदी, बेरोजगारी, बिगड़ती कानून व्यवस्था नए रिकॉर्ड्स बना रहे हैं, अभी हाल ही की बात करें तो प्याज़ के बढ़ते दाम जनता को रुला रहे हैं। लेकिन इसके बावजूद देश में चर्चा महंगाई पर नहीं बल्कि हिंदू-मुसलमा’न पर हो रही है। बहस इसपर हो रही है कि देश के मुसलमा’नों को उनका हक़ मिलना चाहिए या पाकिस्तान और बांग्लादेश से आए ग़ैर-मुस्लि’मों को उनका हक़ दिया जाना चाहिए।

हाल ही में नागरिकता संशोधन बिल (CAB) लोकसभा के बाद अब राज्यसभा से भी पास हो गया। तमाम राजनीतिक दलों के साथ देश के कई हिस्सों में इस बिल का भारी विरोध किया जा रहा है। CAB पर चल रहे विवाद के बीच अब ओलम्पिक गोल्ड मेडलिस्ट बॉक्सर विजेंदर सिंह का एक ट्वीट वायरल हो रहा है। लोग विजेंदर सिंह के ट्वीट की तारीफ करते हुए उसे रिट्वीट और लाइक कर रहे हैं।

जब मसाला हिंदू-मुसलमा’न वाला अच्छा लगने लगे तो कौमें ‘प्याज़’ की चिंता नहीं करतींः विजेंदर सिंह

दरअसल ओलिंपिक मेडलिस्ट भारतीय बॉक्सर विजेंदर सिंह ने ज़ोरदार कटाक्ष करते हुए उन्होंने बुधवार को एक ट्वीट किया, “जब मसाला हिंदू-मुसलमा’न वाला अच्छा लगने लगे तो कौमें प्याज की चिंता नहीं करतीं। बस कह रहा हूं”। विजेंदर का ये ट्वीट आते ही वायरल होने लगा। लोग इसपर अपनी प्रतिक्रिया देने लगे। कमेंट करने वाले यूजर्स इस ट्वीट पर CAB के प्रति अपनी चिं’ता और विरोध भी जता रहे हैं।

वही बहुत से यूजर्स विजेंदर सिंह के ट्वीट को रिट्वीट करते हुए लिख रहे हैं कि राजनेता तो यही चाहते हैं कि लोग हिंदू-मुस्लि’म में उलझे रहें और देश के तमाम मुद्दों की तरफ उनका ध्यान ना जाए। वहीं कुछ मुस्लि’म यूजर्स लिख रहे हैं कि विजेंदर जब आप मेडल लाए थे तब हम भी उसी तरह खुश हुए थे जिस तरह कोई भी देशवासी हुआ था..फिर हमारे साथ इस तरह का व्यवहार क्यों।

आपको बता दें कि इस वक्त देशभर में नागरिकता संशोधन (CAB) बिल को लेकर जमकर बहस छिड़ी हुई है। इस बिल में तीन पड़ोसी देशों से आए तमाम ग़ैर-मुस्लि’म को भारत की नागरिकता देने का प्रावधान है। और देश के मुसलमा’नों को इस बिल में कोई राहत नहीं दी गई है। जिसको लेकर सवाल उठ रहे हैं और देशभर में इसपर बहस की जा रही है।