जोमैटो डिलीवरी बॉय फैजान से बोलीं साक्षी जोशी, दु:खी मत हो दोस्त तुम मेरे लिए खाना लाओ, मैं खुशी खुशी खाऊंगी

ऑनलाइन फूड सर्विस वेबसाइट जोमैटो इन दिनों सुर्ख‍ियों में बनी हुई है इसकी वजह भी दिलचस्प है, दरअसल एक ग्राहक ने जोमैटो के डिलीवरी बॉय से सिर्फ इसलिए खाना नहीं लिया क्योंकि वह मुस्लि’म था इस मामले के सोशल मीडिया पर आते ही जोमैटो ने खाना वापस करने वाले शख्स को करारा जवाब देते हुए कहा खाने का कोई धर्म नहीं होता खाना खुद एक धर्म है जोमैटो के जवाब से सोशल मीडिया पर फैंस काफी इम्प्रेस हैं. इस मामले पर एक्ट्रेस ऋचा चड्ढा से लेकर पत्रकार साक्षी जोशी ने भी मजेदार ट्वीट किया है।

ऋचा चड्ढा ने जोमैटो का फ़ूड को धर्म के नाम पर वापस करने वाले कस्टमर के ट्वीट का स्क्रीनशॉट लगाते हुए लिखा, ज़्यादा नफ़रत नहीं करते एस‍िड‍िटी हो जाती है ठंड रख जो खाना है खा ले अनाउंस क्यूं करता है ट्व‍िटर पे थाली चम्मच ले के शोर ही मचता है असल में थाली चम्मच नहीं मिलता खाना खाने के लिए दोस्त. ऋचा चड्ढा के कमेंट पर यूजर्स के मजेदार कमेंट आने शुरू हो गए हैं।

Image Source: Google

वहीँ इस मामले पर मुस्लि’म डिलीवरी बॉय फैयाज ने कहा कि वह धार्मिक भेदभाव की घट’ना से बहुत आहत हुए हैं। लेकिन मैं क्या कर सकता हूं। हम काफी गरीब लोग हैं और हमारे साथ ऐसा होता रहता है। डिलीवरी बॉय के बयान पर पत्रकार साक्षी जोशी ने ट्वीट कर लिखा दुखी मत हो दोस्त। कुछ बेवकूफों और जाहिलों के अलावा पूरा देश आपके साथ है। श्रावण चल रहा है और मैं एक हिंदू होने के नाते चाहूंगी कि आप मेरे लिए खाना डिलिवर करने आओ प्लीज़। मैं खुशी खुशी खाऊंगी।

दरअसल जबलपुर के रहने वाले अमित शुक्ला नाम के एक ग्राहक ने Zomato से खाना ऑर्डर किया था। शुक्ला को जब खाना पहुंचाने एक मुस्लि’म डिलीवरी ब्वॉय पहुंचा, तो उसने खाना लेने से इनकार करते हुए जोमैटो से दूसरा डिलिवरी ब्वॉय भेजने के लिए कहा। इसपर कंपनी ने भोजन पहुंचाने वाले डिलीवरी ब्वॉय के धर्म को लेकर ग्राहक की शिकायत मानने से इनकार कर दिया।

शुक्ला के इस ट्वीट का ज़ोमैटो ने शानदार जवाब दिया। जोमैटो ने ट्वीट कर कहा खाने का कोई धर्म नहीं होता है। खाना खुद में ही एक धर्म है। जोमैटो अपने रुख पर टिकी रही और डिलिवरी ब्वॉय को बदलने से मना कर दिया।