Coronavirus: हंसीं वादियों में पसरे सन्नाटे को देख, मस्जिद के बाहर फूट-फूटकर रोई महिला

जम्मू-कश्मीर: चीन के वुहान शहर से शुरू हुए कोरोना वायरस की चपेट में लगभग सारी दुनिया आ चुकी है। वही भारत में भी हर दिन इस जानलेवा वायरस से संक्रमण के नए नए मामले सामने आते जा रहे हैं। इस वैश्विक महामारी के बीच गुरुवार को जम्मू-कश्मीर में मौ’त का पहला मामला सामने आया है। जम्मू-कश्मीर में कोरोना वायरस से 65 साल के बुजुर्ग की मौ’त हो गई है जबकि चार लोग कोरोना से संक्रमित है।

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, श्रीनगर में एक 65 साल के बुजुर्ग की कोरोना वायरस की वजह से मौ’त हो गई। वही इस शख्स के संपर्क में आने वाले चार लोग कल कोरोना के टेस्ट में पॉजिटिव पाए गए हैं। वही राज्य में बुधवार को संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 11 हो गए। कश्मीर में अधिकारियों ने आशंका जताई है कि घाटी में मामले और भी बढ़ सकते हैं।

बता दें भारत में कोरोना वायरस की सक्रियतता भयानक होती जा रही है. देश में मामले तेजी से फैल रहे है. अभी तक देश में इससे 16 लोगों की मौ’त हो चुकी है. वही राजधानी में मौ’त का दूसरा मामला सामने आया इसके साथ ही देश में कोविड-19 के मरीजों की संख्या बढ़कर 606 हो गई कोरोना वायरस से निपटने के लिए देश में बुधवार से 21 दिनों का लॉकडाउन कर दिया है।

चिनार के पत्तों की खनक, डल झील के पानी पर तैरते शिकारे, गुलमर्ग की हंसी वादियां और कबूतरों की गुटरगूं से गुलजार रहने वाली घाटी में लॉकडाउन से महीनो पहले से ही सन्नाटा पसरा हुआ है। जहाँ कुछ दिन पहले डल झील की खूबसूरती और कबूतर का झुंड में गुटरगूं करते सुनाई देते थे, लेकिन आज सब जगह सन्नाटा पसरा हुआ है।

अपनी खूबसूरती के लिए प्रसिद्ध डल झील आज सूनी पड़ी है. अब यहां कोई पर्यटक नहीं दिखाई देता शिकारे सजे तो वैसे ही हैं पर उनके अंदर खामोशी पसरी है। गुलमर्ग भी सन्नाटे से पसरा हुआ है।

वही कश्मीर का सबसे बड़ा शहर और राज्य की ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर, जो कि अपनी विशिष्टताओं और खूबसूरती से पर्यटकों के बीच आकर्षण का केंद्र है, वह भी इन दिनों सून सान पड़ा हुआ है. दरिया झेलम के दोनों किनारों पर खामोशी छाई है।

शहर की सबसे पुरानी शाह हमदान मस्जिद हो, जामिया मस्जिद या शहर से 8 किमी की दूर नगीन झील, हर तरफ सन्नाटा पसरा है। वहीं एक ऐसे तस्वीर सामने आई है जो हर किसी को रुला रही है. मस्जिद के सामने फूट-फूटकर रोती और घाटी सहित देश की खुशहाली के लिए दुआ मांगती एक महिला को देख आसपास जो गिने-चुने लोग थे उनकी भी आंखें भर आईं।

ताला लगी मस्जिद के सामने फूट-फूटकर रोती महिला वो बार-बार यही कह रही थीं, ऐ खुदा इस महामारी से हम सभी को बचाएं जिससे घाटी सहित देश में खुशहाली लौटे। अब और नहीं देखा जा सकता।