VIDEO: दिल्ली हिं’सा पर सीएम योगी का विवादित बयान कहा- हमें आता है लोगों की गलतफहमी दूर करना

नई दिल्लीः नागरिकता संशोधन कानून (CAA) पर पिछले तीन दिन से सुलगती दिल्ली में आज थोड़ी शांति दिख रही है। आपको बता दें अब तक इस हिं’सक बवाल में 23 लोगों की मौ’त हो चुकी है और 180 से भी ज्यादा लोग घायल हैं। दिल्ली हिं’सा ने पड़ोसी राज्यों को भी अलर्ट कर दिया है। खासकर दिल्ली में हुई हिं’सा से उत्तर प्रदेश की योगी सरकार खास सतर्क हो गई है। जिसको लेकर योगी आदित्यनाथ का बयान आया है।

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सीएए, एनपीआर और एनआरसी को लेकर विपक्ष पर निशाना साधा है। बुधवार को सीएम योगी ने विधानसभा में बजट पर चर्चा के दौरान विपक्ष पर तंज किया, उन्होंने कहा, आज भी तो आप सुधरने का नाम नहीं ले रहे हैं। बुद्धिमान व्यक्ति बार-बार ठोकर नहीं खाता।

लाईव हिंदुस्तान की खबर के अनुसार, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा की आप सीएए, एनपीआर और एनआरसी के नाम पर लोगो में भ्रम की स्थिति पैदा कर रहे हैं। आप समाज की अपूरणीय क्षति कर रहे हैं। आने वाली पीढ़ी इस कृत्य के लिये आपको कभी माफ नहीं करेगी।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बयान देते हुए कहा की सीएए को लेकर गलतफहमी के शिकार न हों क्योंकि कयामत का दिन कभी नहीं आएगा। कोई गलतफहमी का शिकार होगा तो उसका समाधान हम अच्छे से करना जानते हैं।

आपको बता दें विधानसभा सत्र के दौरान राज्यपाल के अभिभाषण पर हुई चर्चा का जवाब देते हुए सीएम योगी ने कहा कि आखिर नागरिकता कानून को लेकर इतना बवाल क्यों है? देश की छवि आप लोग क्यों खराब करना चाहते हैं? देश में आगजनी तोड़फोड़ करके निर्दोष लोगों को निशाना बनाकर वे लोग क्या चाहते हैं?

इस दौरान योगी ने कहा कि एक बात वह साफ-साफ नोट कर लें कि वह गलतफहमी के शिकार न हों। क्योंकि कयामत का दिन कभी नहीं आएगा। कोई गलतफहमी का शिकार होगा तो उसका समाधान हम अच्छे से करना जानते हैं।

उन्होने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून के नाम पर विरोध प्रदर्शन अनावश्यक है। यह नागरिकता देने का कानून है। प्रधानमंत्री बार-बार कह चुके हैं, इससे किसी से नागरिकता नहीं जाने वाली है। यह कानून 1955 में कांग्रेस सरकार ने बनाया था, इसमें सिर्फ नागरिकता देने के लिए 11 वर्ष के जगह पर 5 वर्ष का नियम किया गया है।

वही सीएम योगी ने कहा कि वह बनाएंगे तो ठीक है, हम बना दें तो बुरा है? कोई जगह नहीं मिली इनको। हर जगह अव्यवस्था पैदा करके भ्रम फैलाया जा रहा है। बता दें कि दिल्ली में बीते तीन दिनों में हुई हिं’सा में म’रने वालों की संख्या बढ़कर 23 हो गई है और 180 लोग घायल हैं।

बता दें उत्तर पूर्वी दिल्ली के कुछ इलाकों में मंगलवार को फिर हिं’सा भड़क गई, जहां उ’पद्रवियों ने प’थरा’व किया, दुकानों में तो’ड़फो’ड़ के साथ-साथ गो’ली बारी और आगजनी की। कई इलाकों में हालात बेकाबू हो गए थे।

जिसके बाद पुलिस ने उपद्रवियों को देखते ही गो’ली मा’रने का आदेश दिया। हिं’सा में अब तक दिल्ली पुलिस के हेड कांस्टेबल रतन लाल समेत 23 लोगों की मौ’त हो चुकी है और कई पुलिस अधिकारि समेत कई लोग घायल हैं।